Trending Nowशहर एवं राज्य

CG BREAKING : नक्सल क्षेत्र में 4 छात्राएं रहस्यमय ढंग से लापता, एक हफ्ते बाद नही मिला कोई सुराग, नक्सलियों ने ..

CG BREAKING: 4 girl students mysteriously missing in Naxal area, no clue found after a week, Naxalites ..

नारायणपुर। नक्सल प्रभावित नारायणपुर जिला के अबूझमाड़ में संचालित एक आदर्श आश्रम की 4 छात्राएं रहस्यमय ढंग से लापता होने का मामला सामने आया हैं। बताया जा रहा हैं कि ये बच्चियां पिछले 7 दिनों से लापता है। जिनकी अब तक कोई जानकारी नही मिल सकी है। इस खुलासे के बाद परिजनों के साथ ही पुलिस और अधिकारी लापता छात्राओं का पता लगाने का प्रयास कर रहे हैं। वही लापता छात्राओं को नक्सलियों द्वारा ले जाये जाने की भी आशंका जताई जा रही हैं।

बालिका आश्रम में पढ़ने वाली छात्राओं के लापता होने का मामला नारायणपुर के ओरछा थाना क्षेत्र का है। बताया जा रहा हैं कि ओरछा के आदर्श कन्या आश्रम शाला की तीन और एकलव्य ओरछा की 1 छात्रा पिछले एक सप्ताह से गायब है। ये सभी छात्राएं पिछले रविवार को आश्रम से कहां चली गईं, जिसके बाद दोबारा वापस नही लौटी। सभी छात्राए नाबालिग हैं। बताया जा रहा है कि छात्राओं के परिजनों को इलाके के लोगों से उनके गायब होने की सूचना मिली थी। जिसके बाद परिजनों ने आश्रम अधीक्षिका पर लापरवाही का गंभीर आरोप लगाया है।

परिजनों ने बताया कि उनकी बेटी मुस्कान कक्षा आठवीं में पढ़ाई करती है। उसकी साथ रहने वाली सहेली ज्योति और प्रिया भी आश्रम से गायब हैं। वहीं कक्षा छठवीं में पढ़ने वाली छात्रा पूजा भी लापता है। परिजनों ने बताया कि आश्रम से जाने के बाद कोई भी छात्रा अपने घर नहीं लौटी हैं। इस मामले के संबंध में ओरछा थाना में भी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई गई है। फिलहाल पुलिस आश्रम के सभी बच्चों अधीक्षक समेत जिम्मेदारों से पूछताछ कर रही है। अब तक छात्राओं का पता नहीं चल सका है।

आदिम जाति कल्याण विभाग के सहायक आयुक्त संजय चंदेल के बताया कि अधीक्षिका को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। वहीं इस घटना के बाद बच्चियों के रहस्यमय ढंग से लापता होने को लेकर तरह-तरह की आशंकाए व्यक्त की जा रही हैं। कुछ लोग नक्सलियों के द्वारा बच्चियों को अपने साथ ले जाये जाने की आशंका जताई जा रही हैं। बताया जा रहा हैं कि कुछ वक्त पहले दंतेवाड़ा में महिला नक्सलियों ने आत्मसमर्पण किया था।

नक्सलियों ने मीडिया के सामने खुलासा किया था माओवादी अंदरूनी इलाके में स्थित आश्रम और छात्रावास से बच्चों को अपने साथ उठाकर ले जाते हैं। जिस महिला नक्सली ने सरेंडर किया था वो भी आश्रम में रहकर पढ़ती थी। उसे भी नक्सली साथ लेकर चले गए थे। ऐसे में ओरछा के आदर्श आश्रम से लापता छात्राओं को लेकर परिजनों के साथ ही पुलिस-प्रशासन की चिंता गहराती जा रही हैं। बच्चियां किसके साथ गयी है, इसकी अब तक कोई पुख्ता जानकारी सामने नही मिल पाया हैं।

Share This:
%d bloggers like this: