Trending Nowदेश दुनियाबिजनेस

Elon Musk ने खरीदा Twitter, ट्विटर अब होगा पूरी तरह प्राइवेट, कई बड़े बदलाव का ऐलान, हो जाइये तैयार …

डेस्क। Elon Musk ने Twitter को 44 बिलियन डॉलर (लगभग 3368 अरब रुपये) में खरीदने का ऐलान किया है। ट्विटर के बोर्ड ने एक साथ मिल कर एलॉन मस्क के ऑफर को ऐक्सेप्ट किया और ये डील इसी साल पूरी कर ली जाएगी। डील पूरी होने के बाद Twitter एक प्राइवेट कंपनी हो जाएगी और इसके मालिक एलॉन मस्क होंगे।

पिछले कुछ दिनों से लगातार एलॉन मस्क के ऑफ़र पर ट्विटर के बोर्ड के अंदर बातचीत जारी थी। दरअसल एलॉन मस्क का मानना है कि फ़्री स्पीच के लिए ट्विटर को प्राइवेट करना होगा और इसी वजह से उन्होंने ट्विटर को ख़रीदने का फ़ैसला किया है।

Twitter में 9% की हिस्सेदारी ख़रीदने के कुछ ही दिनों बाद एलॉन मस्क ने कहा कि फ़्री स्पीच के लिए ट्विटर को प्राइवेट होना पड़ेगा। इतने स्टेक से वो ट्विटर में कुछ ख़ास बदलाव नहीं ला सकेंगे, इसलिए उन्होंने ट्विटर ख़रीदने का ऑफ़र दिया।

दिलचस्प ये है कि कुछ ही समय पहले Elon Musk ने Twitter की 9% हिस्सेदारी ख़रीदी थी, लेकिन अब Elon Musk के पास Twitter Inc का 100% स्टेक होगा। आपको बता दें कि उन्होंने ट्विटर 54.20 डॉलर्स (लगभग 4148 रुपये) प्रति शेयर की दर से कंपनी ख़रीदी है।

Twitter खरीदने का ऐलान के बाद Elon Musk का पहला ट्वीट…

भले ही ये डील की प्रक्रिया पूरी होने में अभी कुछ समय लगेगा, लेकिन अब एलॉन मस्क को ट्विटर का मालिक कहा जा सकता है। यानी ट्विटर के मालिक बनने के बाद ये है Elon Musk का पहला ट्वीट.. इस ट्वीट में अपने स्टेटमेंट का उन्होंने स्क्रीनशॉट पोस्ट किया है, जिसकी शुरुआत Free Speech से है।

कंपनी बेचे जाने पर CEO पराग अग्रवाल का ट्वीट…

पिछले कुछ हफ़्तों से ट्विटर एलॉन मस्क के ऑफ़र पर सोच विचार कर रही थी। बोर्ड की सहमति के बाद अब ट्विटर को बेचने का फ़ैसला कर लिया गया है। एलॉन मस्क ने एक स्टेटमेंट में बड़े बदलाव की बात कही है।

Twitter के नए ‘मालिक’ Elon Musk का स्टेटमेंट…

ट्विटर डील फाइनल होने के बाद एलॉन मस्क ने कहा है कि डेमॉक्रेसी के फंक्शनिंग के लिए फ्री स्पीच जरूरी है। मस्क ने कहा है कि वो चाहते हैं कि ट्विटर प्रोडक्ट एनहैंसमेंट और नए फीचर्स के साथ अब तक का सबसे बेस्ट स्पेस बनाया जाएगा।

मस्क ने कहा है कि ट्विटर का एल्गोरिद्म ओपन सोर्स किया जाएगा ताकि लोगों को भरोसा जीता जा सके। एलॉन मस्क के मुताबिक अब ट्विटर पर सभी ह्यूमन को ऑथेन्टिकेट किया जाएगा और बॉट्स का पूरी तरह से खात्मा किया जाएगा। एलॉन मस्क का मानना है कि ट्विटर पर बॉट्स इस प्लैटफॉर्म की बड़ी समस्याओं में से एक हैं।

क्या पराग अग्रवाल की होगी छुट्टी और जैक आएंगे वापस? –

जैक डोर्सी ने कंपनी से एग्जिट के समय पराग अग्रवाल को सीईओ बना दिया था। पराग अग्रवाल बोर्ड में भी शामिल हैं। जैक डोर्सी ने ट्विटर के बोर्ड से भी एग्जिट ले लिया था।

Twitter पर कई लोग ये मांग कर रहे हैं कि कंपनी के को-फाउंडर जैक डोर्सी को दुबारा से कंपनी के सीईओ बना दिया जाए। एलॉन मस्क और जैक जोर्सी एक दूसरे को समय समय पर सपोर्ट करते आए हैं तो इस बात से भी इनकार नहीं किया जा सकता कि आने वाले समय में जैक डोर्सी को फिर से ट्विटर का सीईओ बना दिया जाए।

मस्क के ट्विटर ख़रीदने के बाद अब कोई नया सीईओ बनाया जाएगा या फिर पराग अग्रवाल ट्विटर में बने रहेंगे, फ़िलहाल साफ़ नहीं है। बिक्री की प्रक्रिया पूरी होने तक सीईओ पद में किसी भी बदलाव की उम्मीद नहीं है।

तेजी से बदली ट्विटर बिकने की कहानी –

शुरुआत में ट्विटर के कई बड़े स्टेक होल्डर्स ने एलॉन मस्क के ऑफर को ठुकराया था, लेकिन बाद में बोर्ड को ये ऑफ़र पसंद आया। अब एलॉन मस्क ट्विटर ख़रीद चुके हैं (बिक्री की प्रक्रिया इस साल तक पूरी कर ली जाएगी)। हालाँकि अभी ये साफ़ नहीं है कि मौजूदा सीईओ पराग अग्रवाल ही ट्विटर के सीईओ बने रहेंगे या फिर यहाँ भी कोई बदलाव किया जाएगा।

खरीदने के बाद मस्क ने कहा, उनके धूर विरोधी भी ट्विटर पर रहेंगे –

Elon Musk ने एक ट्वीट में लिखा है कि उन्हें उम्मीद है कि उनके सबसे धूर विरोधी भी ट्विटर पर रहेंगे, क्योंकि फ्री स्पीच का यही मतलब होता है।

गौरतलब है कि एलॉन मस्क की ट्विटर में एंट्री पिछले महीने तब शुरू हुई जब मस्क ने ट्विटर पर यूजर्स से पूछा कि क्या उन्हें एक नया सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म लॉन्च करना चाहिए क्योंकि ट्विटर फ्रीडम ऑफ स्पीच को नहीं मानता है। मस्क ने ट्विटर को ओपन सोर्स करने की भी बात कही थी।

Elon Musk के पोल पर यूजर्स ने कहा था कि उन्हें नए सोशल मीडिया लाने की जगह ट्विटर खरीद लेना चाहिए। टेस्ला के सीईओ ने यह भी शिकायत की कि ट्विटर स्पीच की स्वतंत्रता के अधिकार को दबा देता है।

Twitter में बड़े बदलाव के लिए हो जाएं तैयार –

फ्री स्पीच को लेकर एलॉन मस्क काफी समय से बात करते आए हैं। इसलिए माना जा रहा है कि ट्विटर खरीदते ही मस्क ट्विटर में बड़़े बदलाव करेंगे।

Twitter के एल्गोरिद्म को ओपन सोर्स करने से लेकर एडिट बटन का ऐलान जल्द ही किया जा सकता है। इतना ही नहीं, ट्विटर के बड़े अकाउंट्स जो बैन किए गए हैं उन्हें भी ऐक्टिव किया जा सकता है।

कई एक्सपर्ट्स मान रहे हैं कि Elon Musk ट्विटर खरीदते ही पूर्व अमेरिकी प्रेसिडेंट डोनाल्ड ट्रंप का भी अकाउंट फिर से ऐक्टिवेट कर सकते हैं। बता दें कि काफी पहले से डोनाल्ड ट्रंप का अकाउंट बैन है।

सभी ‘ह्यूमन’ को किया जाएगा ऑथेन्टिकेट, ट्विटर से होगा बॉट्स का खात्मा?  –

Elon Musk ने हाल ही में कहा था कि अगर वो ट्विटर खरीद लेते हैं तो ट्विटर से बॉट अकाउंट्स को खत्म करने के लिए जान लड़ा देंगे। इतना ही नहीं, उन्होंने ये भी कहा था ट्विटर के हर यूजर्स को ऑथेन्टिकेट किया जाएगा।

हालांकि उनके इस बयान पर ज्यादा टेक एक्सपर्ट्स का मानना है कि सोशल मीडिया पर ऐसा कर पाना नामुमकिन है। बॉट अकाउंट और अनोनिमस अकाउंट से कई बार बड़े खुलासे भी किए जाते हैं, ऐसे में अगर उन पर शिकंजा कसा भी गया तो एक तरह से ये भी फ्री स्पीच का उल्लंघन होगा।

पिछले कई वर्षों में, मस्क ने अक्सर कुछ आवाजों को सेंसर करने के लिए ट्विटर पर सवाल उठाया, जिसमें पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प भी शामिल थे।

क्या जैक डोर्सी की होगी ट्विटर में वापसी? –

Twitter को-फाउंडर जैक डोर्सी को समय समय पर एलॉन मस्क को सपोर्ट करते आए हैं। इसी तरह एलॉन मस्क भी जैक डोर्सी को सपोर्ट करते रहे हैं। हाल ही में मस्क ने ट्विटर बोर्ड पर सवाल उठाया था तो डोर्सी ने भी उन्हीं की लाइन ली थी। इसके अलावा जब एलॉन मस्क ने कहा ट्विटर को ओपन सोर्स करने की बात कही तो भी डोर्सी ने उनके ट्वीट को रीट्वीट करते हुए एक तरह से सहमति जताई।

बदलाव, बदलाव और बदलाव –

दरअसल, एक समय ऐसा भी आया था जब प्लेटफॉर्म ने मस्क पर कोरोना वायरस से जुड़ी जानकारी ट्वीट करने के लिए ट्विटर की शर्तों और दिशा-निर्देशों का उल्लंघन करने का आरोप लगाया था।

इस महीने की शुरुआत में कंपनी ने कहा कि वह पहले ट्विटर ब्लू यूजर्स के साथ एडिट ऑप्शन को टेस्ट करेगी। मस्क निश्चित रूप से एडिट बटन को जल्दी रिलीज करने में मदद कर सकते हैं। एक और फील्ड जहां मस्क से काम करने की उम्मीद की जा रही है वो स्पैम अकाउंट या स्पैमबॉट्स को हटाने को लेकर है। मस्क के अनुसार ट्विटर की ये सबसे खराब बात है। पिछले कुछ सालों में स्कैमर्स ने लोगों को क्रिप्टोकरेंसी देने के लिए फेक अकाउंट का यूज करके धोखा देने की कोशिश की थी।

साल 2020 में, मस्क का अकाउंट हाई-प्रोफाइल ट्विटर अकाउंट में से एक था, जिसे बिटकॉइन स्कैम को आगे बढ़ाने के लिए हैक किया गया था। मस्क अब मालिक होने के साथ, हम एक अधिक ओपन-सोर्स ट्विटर भी देख सकते हैं. ये पहले से ही कुछ हद तक एक ओपन-सोर्स प्लेटफॉर्म है क्योंकि इसकी कुछ टेक्निकल पहले से ही पब्लिक डोमेन में उपलब्ध है। लेकिन हाल ही में टेड टॉक के दौरान मस्क ने कहा कि ट्विटर को अधिक ओपन सोर्स होना चाहिए।

Share This:

Leave a Response

%d bloggers like this: