Trending Nowक्राइम

खाई में गिरी एंबुलेंस, गर्भ में हुई बच्ची की मौत, महिला बोली-चालक ने रास्ते में पी शराब और…

खरगोन : खरगोन जिले के बड़वाह शासकीय अस्पताल से गर्भवती महिला को जिला अस्पताल ला रही एंबुलेंस रास्ते में अनियंत्रित हो गई. एंबुलेंस कसरावद के पास पेड़ से टकराने के बाद खाई में गिर गई. इस हादसे में एंबुलेंस में सवार गर्भवती महिला, पति और उनके रिश्तेदार घायल हो गए. दूसरी ओर, जिला अस्पताल में घायल प्रसूता को मृत बच्ची पैदा हुई. इसे लेकर पीड़ित महिला और परिजनों ने आरोप लगाया कि एंबुलेंस चालक के शराब पीने की वजह से यह हादसा हुआ. पीड़िता ने बताया कि चालक और उसके साथी ने रास्ते में एंबुलेंस रोककर शराब पी थी.

बताया जाता है कि यह मामला बड़वाह के बरझर गांव का है. यहां रहने वाली महिला मौसम नागराज सात महीने से गर्भवती थी. उसे इलाज के लिए पहले बड़वाह अस्पताल ले जाया गया. जहां उसकी ब्लीडिंग को देखते हुए डॉक्टरोंने जिला अस्पताल रैफर कर दिया. महिला को उसका पति राहुल, बहन सारिका और जीजा गोपाल बड़वाह से लेकर खरगोन निकले. बीच रास्ते एंबुलेंस अनियंत्रित हो गई और कसरावद के पास पेड़ से टकराने के बाद खाई में गिर गई. घरवाले दूसरी एंबुलेंस से मौसम को लेकर जिला अस्पताल पहुंचे.

परिजनों ने लगाया ये आरोप
परिजन जब मौसम को लेकर जिला अस्पताल पहुंचे तो उसकी बच्ची की गर्भ में ही मौत हो चुकी थी. इसके बाद हंगामा मच गया. परिजनों ने आरोप लगाया कि एंबुलेंस ड्राइवर ने रास्ते में मण्डलेश्वर के पास अपने साथी के साथ शराब पी थी. शराब के नशे में उसके हाथ से गाड़ी का संतुलन चला गया और गाड़ी कसरावद के पास पेड़ से टकरा गई. स्वास्थ्य विभाग ने इस मामले की जांच शुरू कर दी है.

पूरे मामले की कराई जाएगी जांच- चौहान
इस मामले पर जिला अस्पताल के डॉक्टरों का कहना है कि प्रसूता को गंभीर स्तिथि में बड़वाह से जिला अस्पताल रैफर किया गया था. महिला को सात माह का गर्भ था और ज्यादा ब्लीडिंग होने की वजह से बच्ची की मौत हो गई. इस मामले को सिविल सर्जन अमर सिंह चौहान ने गंभीरता से लिया है. उनका कहना है कि अगर इस मामले में 108 एंबुलेंस के ड्राइवर की लापरवाही होगी, तो उसकी पूरी जांच कराई जाएगी. उन्होंने कहा कि इस मामले की हर जानकारी सीएमएचओ को दी जाएगी.

Share This:

Leave a Response

%d bloggers like this: