Trending Nowशहर एवं राज्य

अब नहीं होगी बिल भरने की टेंशन, छत पर ही बनाएं बिजली, सरकार देगी इतना पैसा

नई दिल्ली : भारत में सौर ऊर्जा को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने सोलर रूफ टॉप योजना शुरू की है. भारत में सौर ऊर्जा को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने सोलर रूफ टॉप योजना शुरू की है. आइए जानते हैं आप कैसे उठा सकते हैं अस योजना का फायदा.

भारत में सौर ऊर्जा को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने सोलर रूफ टॉप योजना शुरू की है. इसके तहत सरकार लोगों को सोलर पैनल लगवाने पर 40 प्रतिशत तक सब्सिडी दे रही है. इस योजना से सरकार ने एक तीर से कई निशाने साधे हैं. बिजली की खपत को कम करके सौर ऊर्जा पर निर्भरता बढ़ाना और लोगों को सस्ती दर पर बिजली मुहैया कराना. सौर पैनल लगवाने का सबसे बड़ा फायदा ये हैं कि आपको एक बार ही पैसा खर्च करना पड़ेगा. उसके बाद आपको करीब 20 साल तक फ्री बिजली मिलती रहेगी.

कितनी मिलेगी सब्सिडी ?
सोलर रूफ टॉप योजना के तहत आपको सोलर पैनल लगवाने के लिए सरकार की ओर से सब्सिडी दी जाएगी. यह सब्सिडी कितनी होगी यह इस बात पर निर्भर करती है कि आप कितने किलोवाट का सोलर प्लांट लगवाते हैं. 1 से 3 किलो का रूफटॉप सोलर प्लांट लगाने पर 40 फीसदी सब्सिडी मिलेगी जो एक आम भारतीय घर के लिए उपयुक्त है. इसमें आप 3-4 पंखे, 6-8 एलईडी लाइट, 1 मोटर, 1 फ्रिज और टी.वी. का आराम से उपयोग कर सकते हैं. वहीं 3 किलो से ज्यादा और 10 किलोवाट तक 20 प्रतिशत की सब्सिडी दी जाएगी.

कितना आएगा खर्च ?
अगर आप 2kW का सोलर पैनल लगवाते हैं तो इसका खर्च लगभग 1.20 लाख रुपये आएगा. इस पर सरकार आपको 40% सब्सिडी देगी यानी 48,000 रुपये. ऐसे में आपकी लागत घटकर 72 हजार रुपये रह जाएगी. यह योजना आम लोगों के साथ-साथ सरकार के लिए भी फायदेमंद है क्यों कि इससे सरकार को भी अधिक मात्रा में बिजली नहीं पैदा करनी होगी. यानी कुल मिलाकर यह योजना सरकार और जनता दोनों की जेब से बोझ कम करेगी. इतना ही नहीं यदि आप जरुरत से ज्यादा बिजली का उत्पादन कर रहे हैं तो इसे आप सरकार को बेचकर पैसा भी कमा सकते हैं.

कैसे करें आवेदन ?
सोलर रूफटॉप लगवाने के लिए आपको इसकी अधिकारिक वेबसाइट https://solarrooftop.gov.in/ पर जना होगा. इसके बाद आप अप्लाई फॉर सोलर रूफटॉप पर क्लिक करें. आपके सामने एक और नया पेज खुलेगा यहां आप ने राज्य के अनुसार लिंक का चयन करें. इसके बाद फॉर्म खुल जाएगा. इसमें आप अपनी सारी जानकारियां भर दें. सब्सिडी की राशि सोलर पैनल लगाने के 30 दिनों के भीतर डिस्कॉम द्वारा आपके दिए गए खाते में डाल दी जाएगी.

क्यों जरुरी है सौर पैनल ?
सौर पैनलों से एनर्जी प्रोडक्शन करने में कोई प्रदूषण नहीं होता है.यह कार्बन फुटप्रिंट्स को कम करता है. इसे बनाने के लिए नाहीं कोयला, पेट्रोल और डीजल का उपयोग करना पड़ता है.

Share This:

Leave a Response

%d bloggers like this: