Trending Nowशहर एवं राज्य

रेलवे और डाक विभाग के बीच हुआ एमओयू, आम लोगो को मिलेगा फायदा, पढ़े पूरी खबर

  • डाक विभाग का कर्मचारी आपके घर आकर आपका सामान कलेक्ट करेगा और उसे रेलवे के पार्सल पाइंट तक पहुंचा देगा

रायपुर: अगर आप अपना कोई सामान रेलवे के जरिए दूसरे शहर पार्सल करना चाहते हैं,तो आने वाले कुछ दिन बाद आपको स्टेशन जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। डाक विभाग का कर्मचारी आपके घर आकर आपका सामान कलेक्ट करेगा और उसे रेलवे के पार्सल पाइंट तक पहुंचा देगा, रेलवे और डाक विभाग के बीच एक एमओयू हुआ है।

रेलवे उसे रूटीन की तरह पार्सल के रूप में भिजवाएगा। इससे आम आदमी को पार्सल किया जाने वाला सामान लेकर स्टेशन तक रेलवे के पार्सल पाइंट तक जाने की जरूरत नहीं होगी। निजी कुरियर कंपनियों की तुलना में कम पैसे लगेंगे और एजेंटों से राहत मिले। खास बात यह है कि यशवंतपुर एक्सप्रेस में इसका ट्रायल शुरू कर दिया गया है। रायपुर रेलवे स्टेशन से अगस्त में 25 हजार पैकेज कुल 10 क्विंटल सामान अलग-अलग राज्यों में भेजा गया है। इससे रेलवे को 26 लाख 76 हजार 818 रुपये का राजस्व प्राप्त हुआ है। वर्तमान में पार्सल कार्यालय के बाहर भारी संख्या में एजेंट सक्रिय हैं। पब्लिक भीड़ से बचने और जल्दी सामान भेजने के लिए एजेंटों का सहारा लेती है। इसके लिए उनको अधिक पैसे खर्च करना पड़ते हैं।

डाक विभाग अब घर-घर चिट्ठी पहुंचाने के साथ ही पार्सल भी पहुंचाएगा। इसके लिए यात्रियों को अब पार्सल कार्यालय नहीं आना पड़ेगा। डाक विभाग पार्सल बुक करने के लिए खुद घर आएगा। डाक विभाग और रेलवे का एमओयू हो गया है। रेलवे ने प्रयोग के रूप में सर्व प्रथम डाक विभाग को यशवंतपुर विशाखापट्टनम एक्सप्रेस में 500 क्विंटल की जगह अलॉट कर दी है। डाक विभाग जल्द ही इसे शुरू करेगा। डाक विभाग पार्सल घर या संस्थान से स्टेशन ले जाकर बुक करवाएगा और पार्सल आने पर उसे छोड़ेगा भी। रेलवे के अधिकारियों का कहना है कि प्रयोग के तौर पर एक ट्रेन में इसे शुरू किया गया है अगर बेहतर रहा, तो अन्य ट्रेनों में भी इसे लागू कर दिया जाएगा।

उसके बाद भी परेशानी होती है, इसलिए लोग रेलवे से पार्सल नहीं भेजना चाहते। बता दें कि रेलवे को कभी पार्सल से अच्छी खासी आमदनी होती थी, लेकिन यह लगातार कम हो रही है या वृद्धि नहीं है। रेलवे के अधिकारियों ने पार्सल ग्राहकों को आकर्षित करने व संख्या बढ़ाने का निर्देश दिया था। इस दौरान अधिकारियों ने बताया कि होम डिलीवरी के जरिए पार्सल बुकिंग बढ़ाई जा सकती है। उसके बाद रेलवे ने यह कदम उठाया है।

काउंटर पर करें सामान बुक
रेलवे ने अपील की है कि अगर किसी भी व्यक्ति को अपना पार्सल बुक करना है, तो वे सीधे रेलवे के अधिकृत काउंटर में जाएं। इससे दलालों के चंगुल में फंसे तो तय शुल्क के अलावा अतिरिक्त रकम देनी होती है। इससे लोगों को सीधा फायदा होगा।

बुकिंग पर आएगा मैसेज
अब डाक विभाग रेलवे के सॉफ्टवेयर से जुड़ जाएगा। इससे पार्टी का सामान बुक होते ही उसको मैसेज आ जाएगा। इसके साथ ही पार्टी रेलवे के पार्सल ट्रैकिंग नंबर (पीआरआर) ट्रैक कर जानकारी ले सकते हैं। साथ ही जान सकेंगे कि कहां पार्सल पहुंचा है।

सफल रहा तो करेंगे लागू
डाक विभाग अब डोर टू डोर पार्सल कलेक्ट करेगा और रेलवे तक पहुंचाएगा। गंतव्य तक पहुंचने के बाद डाक विभाग ही इसकी डिलीवरी भी करेगा। अभी ट्रायल कर रहे हैं, सफल रहा तो लागू करेंगे। -शंभू शाह, एसीएम-रायपुर मंडल

Share This:

Leave a Response

%d bloggers like this: