Trending Nowदेश दुनिया

मेडिकल कॉलेज केे दो मेडिकल विद्यार्थियों की डूबने से मौत, नदी के किनारे घूमने गए थे

वडोदरा : सावली तहसील के लाछनपुर गांव के पास महिसागर नदी में शनिवार को डूबने से बड़ौदा मेडिकल कॉलेज की एक छात्रा समेत दो विद्यार्थियों की मौत हो गई। मेडिकल के एक अन्य छात्र को स्थानीय लोगों ने नदी से बाहर निकाल कर बचा लिया। शनिवार सुबह बड़ौदा मेडिकल कॉलेज के 12 विद्यार्थियों का समूह लाछनपुर के समीप महिसागर नदी किनारे पिकनिक मनाने गए थे। इस दौरान दो विद्यार्थियों की मौत ने उनके उत्साह पर पानी फेर दुख और मातम का माहौल बना दिया।

जानकारी के अनुसार वडोदरा के बड़ौदा मेडिकल कॉलेज में पढ़ाई करने वाली छात्रा सिद्धि निमेशभाई शाह और छात्र अमोघ गोयल समेत अन्य कई विद्यार्थी नदी में स्नान करने गए। इसमें सिद्धि और अमोघ गोयल समेत तीन विद्यार्थी नदी के गहरे पानी में चले गए। पानी के बहाव में बहने लगे। तीनों ने खुद को डूबता देख बचाओ…बचाओ की आवाज लगाई। इनकी आवाज सुनकर स्थानीय तैराकों ने नदी में छलांग लगाते हुए किसी तरह एक विद्यार्थी को बाहर निकाल लिया। लेकिन, सिद्धि और अमोघ को डूबने से नहीं बचाया जा सका। गहरने पानी में दोनों लापता हो गए। करीब एक घंटे की तलाश के बाद दोनों को नदी के पानी से बाहर निकाला गया। वहां मौजूद अन्य मेडिकल के विद्यार्थियों ने उन्हें प्राथमिक उपचार देकर बचाने का खूब प्रयास किया। इसके बाद तुरंत ही 108 एम्बुलेंस से उन्हें सयाजी हॉस्पिटल ले जाया गया, लेकिन रास्तेे में ही उनकी मौत हो चुकी थी। सिद्धि और अमोघ न्यू मेडिकल हॉस्टल में रहते थे और एमबीबीएस के तीसरे वर्ष के विद्यार्थी थे। दोनों मेडिकल विद्यार्थियों की मौत की खबर सुनते ही बड़ी संख्या में विद्यार्थी वहां जमा हो गए। पूरे कॉलेज कैम्पस में शोक की लहर दौड़ गई।

घटना की जानकारी मिलते ही सावली पुलिस तुरंत ही वडोदरा सयाजी हॉस्पिटल पहुंच गई। दोनों के शव का पोस्टमार्टम किया गया। मृतक विद्यार्थियों के परिजनों को घटना की जानकारी दी गई। परिजन भी थोड़ी देर में हॉस्पिटल पहुंच गए। सावली पुलिस ने घटना की प्राथमिकी दर्ज कर आगे की कानूनी प्रक्रिया शुरू की है।

नहाने की मनाही का लगा है बोर्ड
लाछनपुर गांव के समीप महिसागर नदी में डूबने की कई घटनाओं को लेकर प्रशासन ने यहां सुरक्षा के लिए बोर्ड लगा दिया है, जिस पर लोगों ने नहीं नहाने की अपील की गई है। इसके बावजूद यहां पिकनिक मनाने के एि आने वाले लोग नदी के गहरे पानी में चले जाते हैं। हाल में सावली पुलिस थाने के अधिकारियों ने लाछनपुर के समीप महिसागर नदी में डूबने की कई घटनाओं को लेकर सावली तहसीलदार को सख्त पत्र लिखा है। इसके बावजूद सावली प्रशासन ने कोई कार्रवाई नहीं की है।

Advt_07_002_2024
Advt_07_003_2024
Advt_14june24
july_2024_advt0001
Share This: