Trending Nowदेश दुनिया

BIG NEWS : राष्ट्रपति पद के लिए द्रौपदी मुर्मू को मिल रहा सभी से सपोर्ट, अब तक 4 दलों का संकेत !

Draupadi Murmu is getting support from everyone for the post of President, so far 4 parties indicated!

नई दिल्ली। राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के तौर पर एनडीए ने मंगलवार को द्रौपदी मुर्मू के नाम का ऐलान किया था। तब से अब तक दो दलों ने समर्थन का खुला ऐलान कर दिया है, जबकि झारखंड की सत्ताधारी पार्टी झामुमो भी आदिवासी के नाम पर सपोर्ट कर सकती है। दरअसल द्रौपदी मुर्मू संथाल जनजाति से आती हैं, जिसकी अच्छी खासी आबादी झारखंड में है। इससे पहले भाजपा की ओर से द्रौपदी मुर्मू के ऐलान के बाद ही ओडिशा में सरकार चला रही बीजेडी और आंध्र की पार्टी वाईएसआर कांग्रेस ने समर्थन कर दिया था। इसके अलावा एनडीए में भाजपा की सहयोगी जेडीयू भी द्रौपदी मुर्मू का साथ दे सकती है। इस तरह एनडीए राष्ट्रपति चुनाव में आसानी से जीत हासिल करने की स्थिति में आ गया है।

एनडीए से बाहर की पार्टियों वाईएसआर कांग्रेस पार्टी और ओडिशा में सत्तारूढ़ बीजू जनता दल ने राष्ट्रपति चुनाव में द्रौपदी मुर्मू को समर्थन देने के स्पष्ट संकेत दे दिए हैं। वाईएसआर कांग्रेस के संसदीय दल के नेता वी. विजयसाई रेड्डी ने ट्विटर पर अपने संदेश में मुर्मू को बधाई देते कहा कि मुर्मू को एनडीए की ओर से राष्ट्रपति चुनाव में प्रत्याशी घोषित किए जाने पर हार्दिक बधाई। पीएम नरेंद्र मोदी की बात बिल्कुल सही है कि मुर्मू हमारे देश की एक महान राष्ट्रपति साबित होंगी। रेड्डी ने ट्विटर पर मुर्मू से मुलाकात करते हुए अपनी एक फाइल फोटो भी साझा की है।

वाईएसआर कांग्रेस ने दिया समर्थन का संकेत

आंध्र प्रदेश की 175 सदस्यीय विधानसभा में वाईएसआर कांग्रेस के 150 और विधान परिषद में 33 सदस्य हैं। लोकसभा में 25 में से 22 सदस्य और राज्यसभा में 11 में से 6 सदस्य हैं। ऐसे में उसकी ओर से समर्थन मायने रखता है और एनडीए की राष्ट्रपति चुनाव में जीत तय करने वाला है। एनडीए के पास कुल 10.79 लाख वोटों के आधे से थोड़ा कम यानी 5,26,420 है। उसे वाईएसआर कांग्रेस और बीजू जनता दल जैसे दलों एवं निर्दलीयों के सहयोग की जरूरत होगी। राष्ट्रपति पद के लिए आदिवासी एवं महिला श्रेणी में आने वाली श्रीमती मुर्मू के ओडिशा से होने का भी फायदा मिलेगा।

नवीन पटनायक ने भी दी बधाई, समर्थन से बेहद आसान होगी जीत

बता दें कि ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने भी यह साफ कर दिया है। उन्होंने ट्विटर पर मुर्मू को बधाई देते हुए लिखा कि जब प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने उनसे इस बात की चर्चा की तो उन्हें बहुत खुशी हुई। यह ओडिशा के लोगों के लिए एक गौरवशाली क्षण है। मुझे भरोसा है कि श्रीमती मुर्मू देश में महिला सशक्तीकरण की एक चमकती हुई मिसाल बनेंगी। राज्यसभा में ओडिशा से 10 में नौ सदस्य, लोकसभा में सभी 12 सदस्य बीजेडी के हैं। विधानसभा में बीजेडी के 114 विधायक हैं, जबकि एक निर्दलीय एवं भाजपा के 22 सदस्य हैं। इस प्रकार से ओडिशा की 147 सदस्यीय विधानसभा में मुर्मू को 137 सदस्यों का समर्थन मिलने की संभावना है।

सिक्किम के सीएम ने भी किया समर्थन का ऐलान

इस बीच सिक्किम के मुख्यमंत्री प्रेम सिंह तमांग ने राष्ट्रपति पद के चुनाव के लिए द्रौपदी मुर्मू की उम्मीदवारी का समर्थन किया।तमांग ने कहा कि उनकी पार्टी सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चा राजग की सहयोगी होने के नाते मुर्मू की उम्मीदवारी का बिना शर्त समर्थन करेगी । उन्होंने विश्वास जताया कि वह विजयी होंगी और आदिवासी समूदाय से देश की पहली राष्ट्रपति बनेंगी। उन्होंने सोशल मीडिया पर लिखे पोस्ट में कहा, ‘सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चा (एसकेएम) श्रीमती द्रौपदी मुर्मू जी को राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के रूप में नामित करने के भाजपा संसदीय बोर्ड के निर्णय का तहे दिल से स्वागत करता है।’

Share This:

Leave a Response

%d bloggers like this: