Trending Nowदेश दुनिया

केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया का भोपाल में नया पता B-5 श्यामला हिल्स, जानें कौन होगा पड़ोसी?

केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भोपाल के पावर कॉरिडोर कहे जाने वाले श्यामला हिल्स में नए सरकारी आवास में सोमवार को पूजा-पाठ कर गृह प्रवेश किया. गृह प्रवेश के दौरान ज्योतिरादित्य सिंधिया की पत्नी और उनके बेटे साथ थे. अब सिंधिया का भोपाल में नया पता B-5 श्यामला हिल्स होगा. सिंधिया सोमवार को ही एक दिवसीय प्रवास पर भोपाल पहुंचे और एयरपोर्ट से सीधे अपने सरकारी आवास गए. यहां कार्यकर्ताओं और समर्थकों ने उनका जोरदार स्वागत किया.कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में आने के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया को यह शासकीय बंगला आवंटित किया गया. शासकीय बंगले को सिंधिया की पसंद के मुताबिक अंदर से तैयार किया गया है. सरकारी आवास को किसी महल की तरह ही भव्य बनाया गया है. इसका मुख्य द्वार आकर्षण का केंद्र है, जिसके बड़े से द्वार पर दोनों ओर सिंधिया राजवंश के राज चिन्ह की तर्ज पर नाग की डिजाइन बनाई गई है. सिंधिया राजवंश हमेशा से मानता आया है कि नागदेवता घर की रक्षा करते हैं.पीपीपी मॉडल का होगा प्रयोग आपको बता दें कि ज्योतिरादित्य सिंधिया के पास भोपाल में अभी तक कोई बंगला नहीं था. साल 2018 में कमलनाथ सरकार बनने के पहले शिवराज सरकार के समय ही सिंधिया ने भोपाल में बंगले के लिए आवेदन किया था, लेकिन तब उनके आवेदन पर अमल नहीं किया गया था. 2018 में विधानसभा चुनाव के बाद प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनी, लेकिन तब भी सिंधिया की भोपाल में बंगले की मांग अधूरी रह गई. ज्योतिरादित्य सिंधिया साल 2002 से 2019 तक लोकसभा के सदस्य रहे, लेकिन इतने लंबे समय तक सांसद रहने के बावजूद उन्हें भोपाल में सरकारी बंगला नहीं मिल सका था.जानें मामला भोपाल के श्यामला हिल्स इलाके के जिस बंगले में ज्योतिरादित्य सिंधिया शिफ्ट हुए हैं, उससे सटा हुआ बंगला बी-6 है, जो मध्य प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी की फायर ब्रांड नेत्री उमा भारती के नाम आवंटित है. ज्योतिरादित्य सिंधिया के घोर विरोधी माने जाने वाले पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह भी इस बंगले के पास ही बी-1 में रहते हैं. श्यामला हिल्स इलाके में ही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का आधिकारिक निवास है और पास में ही पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ का भी बंगला है.

 

Share This:

Leave a Response

%d bloggers like this: