Trending Nowशहर एवं राज्य

कबीरधाम में शंकराचार्य स्वामी निश्चलानंद की धर्म सभा 10 फ़रवरी को

कबीरधाम । भारतीय संस्कृति के संरक्षण व उसके प्रसार के उद्देश्य से राष्ट्रोत्कर्ष अभियान के तहत देशभर की यात्रा में निकले ऋग्वेदीय पूर्वाम्नाय गोवर्धन मठ जगन्नाथपुरी के पीठाधीश्वर जगतगुरु शंकराचार्य स्वामी निश्चलानंद सरस्वती महाराज का कबीरधाम जिले के ग्राम रणवीरपुर में आगमन हो रहा है।

9 फ़रवरी  को संध्या में उनका आगमन होगा और 10 फ़रवरी  को ग्राम रणवीरपुर में आयोजित विशाल धर्मसभा को संबोधित करेंगे।

कार्यक्रम की आयोजनकर्ता भावना समाज सेवी संस्थान की संस्थापिका भावना बोहरा ने कार्यक्रम की जानकारी देते हुए कहा कि यह हम सभी के लिए सौभाग्य की बात है कि  जगतगुरु शंकराचार्य स्वामी निश्चलानंद सरस्वती महाराज का पावन आगमन हमारे ग्राम रणवीरपुर में हो रहा है।

स्वामी निश्चलानंद सरस्वती 9 फ़रवरी को संध्या में ग्राम रणवीरपुर पधारेंगे और 10 फ़रवरी को सुबह 11:30 बजे स्कूल ग्राउंड बाजार चौक, रणवीरपुर में विशाल धर्मसभा को संबोधित कर अपने आशीर्वचन से हम सभी का मार्गदर्शन करेंगे।

तत्पश्चात 11 फ़रवरी सुबह 11:30 बजे से दोपहर 1 बजे तक रणवीरपुर में ही सत्संग,संगोष्ठी एवं दीक्षा के बाद कार्यक्रम का समापन होगा तत्पश्चात राजधानी रायपुर आश्रम के लिए उनका प्रस्थान होगा।

समायोजक आदित्यवाहिनी-आनंदवाहिनी, जिला कबीरधाम एवं समस्त धर्म प्रेमी, ग्रामवासी तथा क्षेत्रवासियों के विशेष सहयोग से यह आयोजन किया जा रहा है।

भावना बोहरा ने बताया कि शंकराचार्य के आगमन को लेकर पूरे क्षेत्रवासियों में उत्साह साफ दिखाई दे रहा है। उनके आगमन की सूचना से मानों सभी में एक नई ऊर्जा का संचार हुआ है और उनके दर्शन को लेकर सभी आतुर हैं।

अदित्यवाहिनी-अनंदवाहिनी जिला कबीरधाम द्वारा ग्रामवासियों के साथ बैठक कर शंकराचार्य के आगमन तथा उनके  स्वागत एवं धर्म सभा व अन्य आयोजन की तैयारियों को लेकर महत्वपूर्ण चर्चा की गई।

ग्रामवासियों में स्वामी निश्चलानंद के तीन दिवसीय रणवीरपुर प्रवास के दौरान उनके स्वागत एवं आगमन को यादगार बनाने के लिए गांव में तीन दिनों तक  उत्सव मनाने को लेकर उत्साह  दिखाई दे रहा था।

भावना बोहरा ने आगे कहा कि हमारी भारतीय संस्कृति, सनातन धर्म और हिन्दू आस्था के ध्वजवाहक स्वामी निश्चलानंद सरस्वती जी के आगमन को लेकर पूरे कबीरधाम जिले की जनता उनके पावन दर्शन एवं आशीर्वचन सुनने के लिए उत्साहित हैं।

हम सभी के लिए भी यह गौरव की बात है कि रणवीरपुर की पुण्य भूमि में उनका आगमन हो रहा है। हिन्दू धर्म को विश्व में ख्याति दिलाते हुए उसकी महिमा, पौराणिक संस्कृति व भारत की अखंडता के प्रसार हेतु उनके द्वारा किये जा रहे कार्य हम सभी के लिए एक आदर्श है।

उनके आशीर्वचन एवं दिखाए सदमार्ग हम सभी को जीवन में एक नई उर्जा और सकारात्मक मार्ग प्रशस्त करते हैं। मुझे अत्यंत ही हर्ष है कि ग्राम रणवीरपुर में उनका आगमन हो रहा है।

Share This:
%d bloggers like this: