Trending Nowशहर एवं राज्य

अंधे कत्ल का खुलासा, रुपए न देने पर पुत्र ने की थी पिता की हत्या

महासमुंद  पुलिस ने एक साल बाद एक अंधे कत्ल का खुलासा किया है। हत्यारा कोई और नहीं मृतक का पुत्र ही है।

उन्होंने बताया कि 25 मई को मौदहापारा थाना रायपुर में धारा 174 जाफौ के कोसरंगी निवासी मृतक जनकराम साहू (55) का शून्य में मर्ग डायरी प्राप्त होने से महासमुंद में मर्ग पंजीबद्ध कर जांच में लिया गया।

पीएम रिपोर्ट में धारदार वस्तु से मारकर चोट पहुंचाकर हत्या करना पाए जाने पर अज्ञात के खिलाफ धारा 302 पंजीबद्ध कर पुलिस ने विवेचना में लिया।

विवेचना के दौरान पता चला कि मृतक का अपने पुत्र शंकरलाल साहू के साथ संबंध अच्छा नहीं था।

पैसा को लेकर अक्सर वाद-विवाद होता रहता था।

जिसके आधार पर पुलिस की टीम ने संदेही शंकरलाल साहू को पुलिस अभिरक्षा में लेकर पूछताछ प्रारंभ की.

वह पुलिस को मनगढ़ंत बाते कहकर गोल-मोल जवाब देने लगा। कड़ाई से पूछताछ करने पर अंततः वह टूट गया और अपराध स्वीकार किया।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि 11 जनवरी 2022 को जनकराम साहू साइकिल से रुपए निकालने के लिए महासमुंद बैंक आया था।  शाम हो जाने पर मोंगरा निवासी अपने भाई लखन साहू के यहां रुका।

वहां से अपने पुत्र शंकरलाल साहू को फोन लगवा कर लेने के लिए बाइक से बुलवाया फिर दोनों पिता-पुत्र ग्राम कोसरंगी आ गए।

अगले दिन शंकरलाल साहू ने अपने पिता से जेसीबी वाले को देने लिए 6 हजार रुपए मांग की. तब उसके पिता ने देने से मना करते हुए उसे डांटा।

जनकराम साहू दोपहर लगभग सवा एक बजे अपनी साइकिल लेने पैदल घर से ग्राम मोंगरा के लिए निकल गया. रुपए नहीं देने से शंकर गुस्से में था. इसी कारण अपने पिता का पीछा करते हुए गुरूकुल आश्रम कोसरंगी कच्ची रोड की तरफ गया जहां रास्ते में उसका पिता जनकराम साहू मिला।

तब आरोपी बाइक खड़ी कर अपने पास रखे धारदार चाकू से पीछे से कमर पर घोंप दिया।

बाद घटना में प्रयुक्त चाकू व पहने शर्ट को घर के कमरे में रख दिया। एक व्यक्ति ने फोन कर बताया कि उसके पिता तेजबहादुर राइस मिल के पास गिरा पड़ा है।

उसने एम्बुलेंस से अपने पिता को जिला अस्पताल ले गया, जहां से मेकाहारा रायपुर रेफर किया गया जहां उसकी मौत हो गई। आरोपी के कब्जे से घटना में प्रयुक्त चाकू, मोबाइल, बाइक जब्त कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

Share This:
%d bloggers like this: