Trending Nowशहर एवं राज्य

26 जुलाई से शुरू होगा विधानसभा का मानसून सत्र, भूपेश सरकार को घेरने प्रश्नो की झड़ी लगायेगा विपक्ष

रायपुर : जुलाई के अंतिम सप्ताह में शुरू होने वाले मानसून सत्र को लेकर बिलासपुर से बीजेपी विधायकों ने राज्य की भूपेश सरकार को घेरने के लिए कमर कस ली है। बीजेपी इस बार राज्य सरकार से गोधन न्याय योजना के तहत बेचे गए गोबर से हुए मुनाफे से लेकर केंद्र सरकार से कोरोना काल के दौरान मिले अनुदान तक का हिसाब मांगने की तैयारी कर रही है। 26 जुलाई से विधानसभा का मानसून सत्र शुरू होने वाला है जो कि 30 जुलाई तक चलेगा। ऐसे में बीजेपी की ओर से सरकार को घेरने की तैयारी शुरू कर दी गई है। खास तौर पर बिलासपुर जिले से आने वाले 3 विधायकों ने प्रदेश सरकार को घेरने इस बार शिक्षाकर्मियों के रेगुलर करने, गोधन न्याय योजना के तहत गोबर खरीदी और उसे खाद बना कर बेचने पर हुए राज्य सरकार के मुनाफे को लेकर प्रश्न करने की तैयारी की गई है। इसके साथ ही कोरोना काल के दौरान राज्य सरकार को केंद्र से कितना अनुदान और कितने वेंटीलेटर्स जैसे जरूरी मशीनें मिली इनका हिसाब मांगा गया हैं। बीजेपी का कहना है कि राज्य की भूपेश सरकार कोरोना काल के दौरान केंद्र पर उन्हें सहयोग नहीं देने की बात कहती आई है। ऐसे में इस सवाल के जवाब से दूध का दूध और पानी का पानी हो जायेगा। इसके साथ ही बीजेपी की ओर से इस सत्र में इमरजेंसी के दौरान जेल गए मीसाबंदियों को मिलने वाले भत्ते पर भूपेश सरकार द्वारा लगाई गई रोक को लेकर भी सवाल किया जाएगा। बता दें कि बिलासपुर जिला राजनीतिक तौर पर राज्य में महत्वपूर्ण भूमिका रखता है। बिलासपुर में कुल 6 विधानसभा सीट आती है, जिनमें से 3 पर बीजेपी काबिज है। बीजेपी के बिल्हा से नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक से लेकर मस्तूरी विधायक और पूर्व स्वास्थ्य मंत्री कृष्ण मूर्ति बांधी समेत बेलतरा से विधायक रजनीश सिंह इस बार मानसून सत्र में बिलासपुर की तरफ से अगुवाई करेंगे।

रेणु जोगी राज्य के अस्पतालों को लेकर पूछेंगी सवाल

कोटा से कांग्रेस की विधायक रेणु जोगी ने इस मानसून सत्र में अस्पतालों में आगजनी से बचाव के लिए अग्निशमन लगाने को लेकर प्रश्न किया हैं। कोटा विधायक डॉ. रेणु जोगी ने प्रदेश के गृहमंत्री से अस्पतालों में आगजनी से सुरक्षा से संबंधित जानकारी मांगी है। गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू से मांगे गए जवाब में रेणु जोगी ने कहा है कि प्रदेश के संचालित अस्पतालों और नर्सिंग होम्स में अग्नि सुरक्षा के लिए ऑडिट की जानकारी मांगी है। वही रेणु जोगी ने प्रदेश में कितने अस्पताल बिना वैध प्रमाण पत्र के संचालित हो रहे हैं और संबंधित अस्पताल के खिलाफ क्या कार्रवाई की गई है इसकी जानकारी भी मांगी है। साथ ही प्रदेश की राजधानी रायपुर के अस्पताल में हुए अग्निकांड मामले में जांच किस स्तर पर पहुंची है, मामले में किन किन व्यक्तियों को दोषी पाया गया है और उनके खिलाफ क्या कार्रवाई हुई है इसकी जानकारी भी मांगी गई है। मामले में गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू 28 जुलाई को विधानसभा में जवाब देंगे।

Advt_07_002_2024
Advt_07_003_2024
Advt_14june24
july_2024_advt0001
Share This: