Trending Nowक्राइम

राजधानी पुलिस ने पकड़ा 42 किलो गांजा, ओडिशा से लाकर भिलाई खपाने के लिए ले जा रहा था, आरोपी गिरफ्तार

रायपुर : रायपुर की तेलीबांधा पुलिस ने जब्त किया है, जिसकी कीमत 6 लाख 30 हजार रुपए बताई जा रही है। तेलीबांधा थाना प्रभारी भावेश गौतम ने बताया कि मुखबिर से मिली सूचना पर कार्रवाई की गई। सूचना मिली थी कि स्विफ्ट डिजायर कार से भारी मात्रा में गांजे का परिवहन किया जा रहा है। आरोपी ड्राइवर का नाम राकेश नागपुरे हैं। उसने बताया कि वो भिलाई के कोहका का रहने वाला है। उसने बताया कि वो गांजा ओडिशा से लाकर भिलाई खपाने के लिए ले जा रहा था।

गिरफ्तार आरोपी ने बताया कि वो उत्तर प्रदेश में भी गांजे की तस्करी करता है। पुलिस ने NDPS एक्ट के तहत केस दर्ज कर लिया है। इससे पहले भी आरोपी गांजे की स्मगलिंग के मामले में जेल जा चुका है। इसके बाद पुलिस ने घेराबंदी कर तेलीबांधा इलाके में कार को रुकवाया। जब उसकी तलाशी ली गई, तो उसमें 42 किलो गांजा मिला। कार ड्राइवर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

वहीं सोमवार 5 अगस्त को भी सिलतरा पुलिस ने 80 हजार रुपए के गांजे के साथ आरोपी महेश पाटले को गिरफ्तार किया था। पुलिस को सूचना मिली थी कि सिलतरा स्थित इंडियन गैस प्लांट के सामने बाइक सवार एक व्यक्ति गांजा बिक्री करने के फिराक में है। पुलिस ने घेराबंदी कर उसे गिरफ्तार कर लिया था। आरोपी महेश पाटले रायपुर के खरोरा का रहने वाला है। उसके पास से 1 किलो 800 ग्राम गांजा बरामद हुआ था।

पिछले महीने 18 अगस्त को भी रायपुर-ओडिशा के 3 लोगों को महासमुंद की कोतवाली पुलिस ने अलग-अलग मामले में गांजे का अवैध परिवहन करते हुए पकड़ा था। पुलिस ने आरोपियों से 57 किलो गांजा बरामद कर NDPS एक्ट के तहत कार्रवाई की थी। आरोपी गांजा ओडिशा के नुआपाड़ा से लेकर छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर ला रहे थे। एक आरोपी जगन्नाथ पटेल चूनाभट्ठी रायपुर निवासी और दूसरा आरोपी ईशुदास बलांगीर (ओडिशा) निवासी था। इनके पास से 36 किलो गांजा मिला था। वहीं एक दूसरे मामले में पुलिस ने ओडिशा के लोहारपाली के रहने वाले तपन सिंह को गिरफ्तार किया था। इसके पास से 21 किलो गांजा मिला था।

Share This:

Leave a Response

%d bloggers like this: