Trending Nowशहर एवं राज्य

विधायक अजय चंद्राकर, शिवरतन शर्मा और प्रमोद शर्मा ने सदन में उठाया ठगी का मुद्दा

रायपुर। छत्तीसगढ़ में ठगी के बढ़ते मामलों की सदन में गूंज देखने को मिली. ध्यानाकर्षण सूचना के ज़रिए विपक्ष ने मामले को उठाया. बीजेपी विधायक अजय चंद्राकर, बीजेपी विधायक शिवरतन शर्मा और जेसीसी विधायक प्रमोद शर्मा ने मामले को सदन में उठाया.

इस दौरान गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू के स्थान पर मंत्री मो.अकबर के जवाब देने पर बीजेपी ने आपत्ति जताई. अजय चंद्राकर ने कहा कि ध्यानाकर्षण सूचना पर जब गृहमंत्री दस्तख़त कर सकते हैं तो फिर सदन में भी जवाब भी दे सकते हैं.

स्पीकर डॉक्टर चरणदास महंत ने कहा कि गृहमंत्री की तबियत ख़राब है. उन्होंने इसकी सूचना दी है. बीजेपी विधायकों के विरोध के बीच मंत्री शिव डहरिया की टिप्पणी पर विपक्ष ने आपत्ति जताई. शोर शराबे के बीच सदन की कार्यवाही पांच मिनट के लिए स्थगित कर दी गई है.

मंत्री मो. अकबर ने कहा कि कोई भी ध्यानाकर्षण किसी स्पेसिफ़िक घटना पर लग सकता है, लेकिन जो ध्यानाकर्षण लगा है, जिसमें 29 घटनाओं का विवरण दिया गया है. पहले आसंदी ये तय कर दे कि इस पर जवाब दिया जा सकता है या नहीं?

अजय चंद्राकर ने कहा कि ध्यानाकर्षण के दौरान मंत्री शिव डहरिया की लगातार टिप्पणी आती रही. मुख्यमंत्री की मौजूदगी में टिप्पणी होती रही. राज्य शासन के ध्यान में ये विषय आ चुका है. अब हम इस विषय पर कोई प्रश्न नहीं पूछेंगे.

ध्यानाकर्षण सूचना के ज़रिए विपक्ष ने पूछा कि प्रदेश में ठगी का मामले के संबंध में विधानसभा सत्र के दौरान बावजूद भी निरंतर बढ़ते ही जा रहा है. दुनिया भर के ठग गिरोह चाहे अंतराष्ट्रीय हो सभी का एक ही पंसद छत्तीसगढ़ है. प्रदेश में ठग गिरोह संचालित है, जहां से लूटपाट की घटना पूरी तैयारी के साथ किया जाता है. ठग अब तक ठगी की कई घटना को अंजाम दे चुके हैं.

इसमें से 9/7/2022 को जिला रायपुर के तिल्दा-नेवरा थाना अंतर्गत सरफोंगा निवासी को नौकरी दिलाने के नाम पर करीब 3 लाख 50 हजार की ठगी की गई. यातायात पुलिस और कोर्ट के कर्मचारी बनकर लोगों से ठगी की जा रही है.

8/6/2022 जिला रायपुर के राजेन्द्र नगर थाना क्षेत्र के प्रियदर्शनी नगर स्थित राम शाखा में फर्जी सिक्कों की एंट्री दिखाकर लगभग 5 करोड़ 60 लाख की ठगी की गई. एक किसान मनमोहन वर्मा से बीमा पॉलिसी के नाम पर 49 लाख रु की ठगी की गई.

7/6/2022 को जिला महासमुंद के सिटी कोतवाली अंतर्गत विनोद कमार ठगी की गयी। दिनांक 7/6/2022 को जिला महासमुंद के नदी और अन्य दो और लोगों से 3 लाख 80 हजार रू. की ठगी की गई. तंबोली, शशि कुमार तांडी एवं अन्य दो और लोगों से भी ठगी की गई.

इसके साथ ही विपक्ष ने कहा कि प्रदेश में ठगी के गिरोहों पर कार्रवाई नहीं की जा रही है. गिरोहों से पुलिस थाने में ही सेटेलमेंट कर रही है. पुलिस कई मामलों को थाने में ही रफादफा कर रही है. सरकार अपराध पर अंकुश लगाने में नाकामयाब हो रही है.

 

Share This:

Leave a Response

%d bloggers like this: