Trending Nowखेल खबर

CRICKET NEWS- सौरव गांगुली की 5 बेहतरीन पारियां,विदेश में भी बजा चुके हैं भारत का डंका

बीसीसीआई चीफ सौरव गांगुली अपने फैसलों के लिए जाने जाते हैं। लेकिन प्रिंस ऑफ कोलकाता अपने जमाने के धांसू आल राउंडर रह चुके हैं। कई मौकों पर उन्होंने गेंद और बल्ले से टीम को बड़ी जीत दिलाई है। टीम इंडिया को विदेशी धरती पर जीत का स्वाद चखाने का श्रेय भी गांगुली को ही जाता है। आईए आपको बताते हैं दादा की 5 सर्वश्रेष्ठ पारियों के बारे में जिसकी बदौलत विरोधी ढेर हो गए।

141 vs दक्षिण अफ्रीका, 2000: आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी के सेमीफाइनल में गांगुली ने 141 रनों की धुंआधार पारी खेलकर अपनी टीम को जीत दिलाई। साउथ अफ्रीका के खिलाफ टीम इंडिया ने 50 ओवर्स में 295 रन बनाए। जिसके बाद टीम इंडिया ने साउथ अफ्रीका पर बड़ी जीत दर्ज की। इस पारी को विसडन की 100 बेस्ट पारियों में शामिल किया गया है।

183 vs श्रीलंका, 1999 वर्ल्ड कप: इस पारी को सौरव गांगुली के वनडे की सबसे यादगार पारियों में से एक माना जाए तो अतिश्योक्ति नहीं होगी। लंका के खिलाफ पहला विकेट 6 रन पर गिरने के बाद गांगुली ने द्रविड़ के साथ मिलकर पूरे मैच का रुख पलट दिया। दूसरे विकेट के लिए गांगुली ने द्रविड़ के साथ मिलकर 318 रन की जोरदार साझेदारी की । गांगुली ने 158 गेंदों में 17 चौकों और 7 छक्के की मदद से 183 रन बनाएं। जिसकी बदौलत टीम इंडिया ने लंका के खिलाफ 373 रनों का विशाल स्कोर बनाया ।

131 vs इंग्लैंड, 1996: कहते हैं पुत के पांव पालने में ही दिखने लगते हैं. ऐसा ही कुछ दिखाया था सौरव गांगुली ने । लार्ड्स के ऐतिहासिक मैदान में गांगुली ने इंग्लिश गेंदबाजों को इतना पीटा की वो हांफ गए। गांगुली ने 20 चौकों की मदद से इस टेस्ट में 131 रनों की बड़ी पारी खेली।

239 vs पाकिस्तान, 2007: पाकिस्तान के खिलाफ अक्सर टीम इंडिया पूरा दम खम लगाती है। लेकिन टीम के प्लेयर भी अपना सब कुछ जीत के लिए झोंक देते हैं। गांगुली ने बैंगलोर टेस्ट में आतिशी पारी खेलकर पाकिस्तान को पूरे मैच में पछाड़ दिया। दादा ने 361 गेंदों में 239 रन ठोंक डाले। जिसकी बदौलत टीम इंडिया ने626 रनों का विशाल स्कोर खड़ा किया।

144 vs ऑस्ट्रेलिया, 2003: बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी के पहले ही मैच में गांगुली ने ब्रिस्बेन की उछाल लेती पिच पर धमाकेदार पारी खेली। गांगुली ने ऑस्ट्रेलियाई पेसर्स का मुकाबला करते हुए 18 चौकों की मदद से 144 रन बनाए। जिसकी बदौलत एक हारा हुआ मैच टीम इंडिया ने ड्रा कराया।

Share This:

Leave a Response

%d bloggers like this: