Trending Nowशहर एवं राज्य

CG BIG NEWS : नाबालिग बैडमिंटन खिलाड़ी को प्रेम जाल में फंसाकर 2 अबॉर्शन, मन भर जाने पर किसी और से शादी, लिव-इन-रिलेशनशिप में धोखे की कहानी

CG BIG NEWS: 2 abortions by trapping a minor badminton player in a love trap, marrying someone else when the mind is satisfied, the story of deception in live-in-relationship

डेस्क। दिल्ली के श्रद्धा मर्डर केस के बाद रायगढ़ से भी लिव-इन-रिलेशनशिप में धोखे की एक ऐसी कहानी सामने आई है, जिसमें प्रेमी ने पहले तो नाबालिग बैडमिंटन खिलाड़ी को अपने प्रेम जाल में फंसाया, फिर गर्भवती होने पर दो-दो बार उसका अबॉर्शन कराया, इसके बाद लड़की से मन भर जाने पर किसी और से शादी भी कर ली। मामला पुसौर थाना क्षेत्र का है।

पूरी प्लानिंग के साथ इस लव और धोखे की कहानी को रायगढ़ के कारोबारी मनोज अग्रवाल ने अंजाम दिया। ये कहानी शुरू होती है 24 जनवरी 2009 को, जब पुसौर के रहने वाले मनोज अग्रवाल की मुलाकात जशपुर जिले की रहने वाली नाबालिग बैडमिंटन खिलाड़ी से एक टूर्नामेंट के दौरान हुई थी। नाबालिग अनुसूचित जाति की है। मुलाकातें धीरे-धीरे बातचीत में तब्दील होने लगीं और बातचीत प्यार में।

2012 में आरोपी मनोज ने नाबालिग प्रेमिका को रायगढ़ जिले के पुसौर में बुलाया। आरोपी ने प्रेमिका का दिल जीतने के लिए उसे अपने घरवालों से मिलवाया। इसके बाद उसके सामने प्यार-वफा की कसमें भी खाईं। आरोपी ने लड़की से शादी का वादा भी किया। लड़की आरोपी के साथ-साथ जयपुर, दिल्ली, ओडिशा भी जाने लगी। आरोपी ने इस बीच नाबालिग के साथ कई बार शारीरिक संबंध भी बनाया। 2018 में जब लड़की गर्भवती हुई, तो उसका ये कहकर गर्भपात करा दिया कि अभी इस कच्ची उम्र में वो बच्चे की जिम्मेदारी संभाल नहीं पाएगी।

आरोपी ने पीड़िता का दो-दो बार अबॉर्शन कराया। इस बीच आरोपी इसी तरह पीड़िता का यौन शोषण करता रहा, लेकिन मामले में ट्विस्ट तब आया, जब आरोपी मनोज अग्रवाल ने 9 फरवरी 2019 को किसी और लड़की से शादी कर ली। जब प्रेमिका ने इस बारे में पूछा तो कहानी सुना दी कि उसने ये शादी मजबूरी में की है। उसकी पत्नी झगड़ालू है और वो उससे तलाक ले लेगा। प्रेमिका को भरोसा दिलाने के लिए वो 1 मार्च 2022 को उसे महा शिवरात्रि के दिन रायगढ़ के कनकतूरा के पास बने शिव मंदिर में ले गया और फिल्मी स्टाइल में मांग भर दी।

इधर पीड़िता एक बार फिर प्रेग्नेंट हुई, तब उसने प्रेमी पर शादी का दबाव बनाया। इस पर प्रेमी ने साफ-साफ ये कह दिया कि तुम छोटी जाति की हो और मैं तुमसे शादी कभी नहीं करूंगा। इसके साथ ही प्रेमिका को दवाई खिलाकर उसका गर्भपात भी करा दिया। प्रेमिका के विरोध करने पर उसके साथ मारपीट भी शुरू कर दी। आरोपी ने जिस किराये के घर में पीड़िता को रखा था, उसका किराया देना भी बंद कर दिया। और उसे जान से मारने की धमकी भी दी।

इस बीच आरोपी की पत्नी को 12 अक्टूबर को इसी साल एक बच्चा हुआ, तब तो आरोपी का स्वभाव पहले से भी अधिक कठोर हो गया। उसने कहा कि ज्यादा विरोध किया, तो जान से मारकर और टुकड़े-टुकड़े कर नाली में बहा दूंगा। वो शराब के नशे में उसके साथ मारपीट भी करने लगा। इतना सब कुछ हो जाने पर पीड़िता ने अपनी बड़ी बहन को मामले की जानकारी दी। फिर पीड़िता ने पुसौर थाने में आरोपी मनोज अग्रवाल के खिलाफ केस दर्ज कराया।

रायगढ़ एसपी अभिषेक मीणा ने दैनिक भास्कर से बातचीत में बताया कि आरोपी का वर्तमान पता कालिंदी कुंज मिट्ठूमुड़ा रायगढ़ है, लेकिन फिलहाल वो फरार चल रहा है। आरोपी की गिरफ्तारी के लिए रायपुर, बिलासपुर में भी दबिश दी गई थी, लेकिन वो राज्य के बाहर भागने में कामयाब हो गया है। वो लगातार अपनी लोकेशन बदल रहा है, लेकिन पुलिस टीम छत्तीसगढ़ के बाहर अन्य राज्यों में भी दबिश दे रही है, जल्द ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

 

 

Share This:
%d bloggers like this: