Trending Nowदेश दुनिया

अपना देश छोड़कर भाग रहे लोग, अंतरिक्ष से दिखी 20 KM लंबी लाइन, तस्वीर में दिखा खौफ

  • राष्ट्रपति पुतिन के ऐलान के बाद रूस के लोग बेहद तनाव में

रूस: राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के पिछले हफ्ते यूक्रेन के खिलाफ जारी युद्ध को देखते हुए 3 लाख रिजर्व रूसी सैनिकों को तैनात करने के ऐलान के बाद वहां पर तनाव की स्थिति बनी हुई है. मैक्सार टेक्नोलॉजीज की सैटेलाइट तस्वीरों में जॉर्जिया के साथ सटी सीमा पर रूस से बाहर जाने वाली कारों की एक बड़ी लंबी कतार दिख रही है, जो सोमवार को करीब 20 किमी तक बढ़ती चली गई और यह नजारा अपर लार्स बॉर्डर का है. स्थानीय रूसी लोगों ने मीडिया को बताया कि वे बाहर निकलने के लिए 40 से 50 घंटों तक का इंतजार कर रहे हैं.

बड़ी संख्या में लोग रूस छोड़ने की फिराक में हैं. रूस से बाहर निकलने की कोशिश में अब वहीं इस कदर लंबा जाम लग रहा है जो स्पेस से भी दिखाई दे रहा है. रूसी-जॉर्जियाई बॉर्डर पर 20 किलोमीटर तक का लंबा ट्रैफिक जाम लग गया. इसी बीच रूस में ही कल सोमवार को, एक रूसी सैनिक अधिकारी को एक युवक ने गोली मार दी. लोग वहां पर पुतिन की क्रूर नई नीति 3 लाख अतिरिक्त सैनिकों की भर्ती का विरोध कर रहे हैं.

कई अन्य बॉर्डर्स पर भी लग रही लंबी कतार
कुछ इस तरह की तस्वीरें मंगोलिया और रूस के बीच ख्यागट सीमा चौकी (Khyagt Border Post) पर भी दिखाई दीं. रूसी सुरक्षा सेवाओं के अनुसार, रूसी सेना में शामिल होने से बचने के लिए अब तक 260,000 से अधिक पुरुष देश छोड़कर भाग गए हैं. क्रेमलिन के एक सूत्र ने नोवाया गजेटा यूरोप को बताया कि उन्होंने एक ऐसी खबरी देखी है जिसमें यह दावा किया गया कि बुधवार और शनिवार की रात के बीच 261,000 पुरुषों ने रूस छोड़ दिया था.

हालांकि, अखबार ने यह भी कहा कि यह संख्या बहुत अधिक हो सकती है क्योंकि डेटा को अंतिम रूप में एकत्र करके रिपोर्ट करने में अधिक समय लग सकता है. सूत्र के हवाले से यह कहा गया, “प्रशासन के अंदर का माहौल ऐसा है कि सुरक्षा बल और रक्षा मंत्रालय बहुत देर होने से पहले पुतिन को इस आदेश से बाहर निकलने के लिए राजी कर सकेंगे.”

फिनलैंड भाग गए 8 हजार रूसी लोग
पहले से ही ऐसी खबरें थीं कि रूसी सेना ने बख्तरबंद कर्मियों को जॉर्जिया के साथ बॉर्डर पर वेरखनी लार्स चेकपॉइंट पर भेज दिए हैं. यह भी पता चला कि 8,000 से अधिक रूसी लोग सरकार के नए ऐलान से बचने की कोशिश में फिनलैंड भाग गए.फिलहाल क्रेमलिन की ओर से बॉर्डर्स को बंद करने को लेकर अभी तक किसी तरह के आदेश की घोषणा नहीं की गई है. “एक दिन पहले कल 8,314 रूसियों ने फिनिश रसियन लैंड बॉर्डर से होते हुए फिनलैंड में प्रवेश कर लिया और यह एक हफ्ते से पहले की तुलना में यह संख्या दोगुनी है.”

फिनिश बॉर्डर गार्ड में इंटरनेशनल अफेयर्स यूनिट के प्रमुख मैटी पिटकैनिटी ने ट्वीट कर बताया, “शनिवार और रविवार के दौरान कुल 16 886 रूसी लोग यहां पहुंचे. जबकि रविवार को 5,068 रूसी बाहर निकल गए. पुतिन के ऐलान का रूस में भारी विरोध हो रहा है. जारी विरोध के बीच एक युवा हमलावर ने आर्मी रिक्रूटिंग चीफ पर फायरिंग कर दी. हमलावर ने आर्मी रिक्रूटिंग चीफ अलेक्जेंडर एलिसेव के ऊपर चार बार गोली चलाई.

R.O. No. 12237/11

dec22_advt
dec22_advt2 - Copy
Share This:
%d bloggers like this: