Trending Nowदेश दुनिया

दुनिया में ज्ञान का दीप प्रज्ज्वलित कर रहा एनआईओएस : डॉ. सुभाष

नई दिल्ली । केंद्रीय शिक्षा राज्य मंत्री डॉ. सुभाष सरकार ने राष्ट्रीय मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्थान-एनआईओएस के 33वें स्थापना दिवस समारोह को मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित किया। समारोह में शिक्षा मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों, शैक्षणिक संस्थानों के अध्यक्षों, विभागों के प्रमुखों, एनआईओएस के अधिकारियों और कर्मचारियों ने भाग लिया। प्रो. नवल किशोर अम्बष्ट, पूर्व अध्यक्ष, एनआईओएस और हरियाणा केंद्रीय विश्वविद्यालय की प्रो-वाइस चांसलर प्रो. सुषमा यादव भी इस अवसर पर उपस्थित थे। डॉ. सुभाष सरकार ने अपने संबोधन में एनआईओएस के विभिन्न कार्यक्रमों और योजनाओं की सराहना की।

श्री सरकार ने कहा कि एनआईओएस पूरी दुनिया में ज्ञान का दीप प्रज्ज्वलित कर रहा है। आजादी का अमृत महोत्सव के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा कि आजादी के 100 वर्ष पूरे होने के समय पर वर्तमान समय के बच्चे 30-40 वर्ष के युवा होंगे और देश के निर्माण का दायित्व उन के कंधों पर होगा। उन्होंने कहा कि शिक्षा मंत्रालय ने एनआईओएस को कई दायित्व सौंपे हैं।

इनमें समावेशी शिक्षा संसाधन विकसित करना, राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों में मुक्त और दूरस्थ शिक्षा प्रणाली का विस्तार करना, सभी पाठ्यक्रमों को आवश्यकतानुसार और भाषाओं में अनुवाद करना, भारतीय ज्ञान परंपरा आधारित पाठ्यक्रमों का निर्माण करना और प्रमुख विदेशी भाषाओं में अनुवाद करके भारतीय संस्कृति का प्रचार-प्रसार करना शामिल हैं। उन्होंने एनआईओएस के ‘बुनियादी साक्षरता आकलन” के अंतर्गत 10 करोड़ वयस्कों को नामांकित करने, सेवारत शिक्षकों का प्रशिक्षण, लैंगिक हरित परियोजना और योग में प्रशिक्षण के कार्यक्रमों की भी प्रशंसा की।

डॉ. सुभाष सरकार ने कहा कि माध्यमिक स्तर पर विषय के रूप में भारतीय सांकेतिक भाषा को राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय मंचों पर स्वीकार किया गया है। उन्होंने एनआईओएस द्वारा ‘दीप’ नामक ई-पुस्तकालय के शुभारंभ को एक बड़ा कदम बताया।

Share This:
%d bloggers like this: