Trending Nowशहर एवं राज्य

जेल से निकले जीपी सिंह

रायपुर। रायपुर की सेंट्रल जेल में बंद निलंबित एडीजी जीपी सिंह को अब रिहा कर दिया गया है । शनिवार की शाम वह जेल से बाहर आए। जेल परिसर में बाहर आते ही उन्होंने अपनी पत्नी को गले लगाया । पूरी फुर्ती से चलते हुए अपनी गाड़ी में बैठे और फौरन जेल परिसर से निकल गए।

आय से अधिक संपत्ति के केस में गिरफ्तार IPS और सस्पेंड ADG जीपी सिंह को हाईकोर्ट ने जमानत दी थी। बताया जा रहा है कि कोर्ट ने उन्हें सशर्त जमानत दी गई है। जीपी सिंह गिरफ्तारी के बाद करीब 120 दिन से जेल में बंद थे। उनपर राजद्रोह का मुकदमा भी चलाया जा रहा है। दोपहर के वक्त रायपुर अदालत की न्यायधीश लीना अग्रवाल की कोर्ट ने जमानत की दस्तावेजी के बाद रायपुर जेल से रिहाई का आदेश जारी कर दिया था।

पिछले दिनों अदालत में पेश होते समय मीडिया से बात करते हुए जीपी सिंह ने कहा था कि ये उनके खिलाफ साजिश है। ये ये पॉलिटिकल विक्टमाइजेशन का केस है। मेरे खिलाफ दर्ज FIR पूरी तरह से गलत है। जीपी सिंह के वकील ने भी पुलिसिया कार्रवाई को गलत ठहराया था। जीपी सिंह कह चुके हैं कि जो संपत्ति उनके नाम बताई जा रही है वो उनकी नहीं है और ना ही उनका उससे कोई लेना-देना है। उन्होंने तब कहा था कि ये पूरा केस फैब्रीकेटेड (रचा हुआ) है।

इन शर्तों पर रिहा हुए है जीपी

  • जीपी सिंह को रायपुर में रहने की अनुमति नहीं होगी।
  • वो अपनी यात्रा के लिए निचली अदालत को सूचित करेंगे।
  • जीपी सिंह को अपने अपने ठहरने की जगह के बारे में एक बंद लिफाफे में ट्रायल कोर्ट को अग्रिम रूप जानकारी देनी होगी।
  • जीपी सिंह या उनके परिवार के लोग बिना लोअर कोर्ट की अनुमति के प्रॉपर्टी को गिरवी नहीं रखेंगे।
  • जीपी सिंह मीडिया से कोई बात नहीं करेंगे, केस के सिलसिले में, कोई सार्वजनिक बयान नहीं देंगे।
  • जीपी सिंह किसी भी तरह से गवाहों से संपर्क नहीं करेंगे।
  • जीपी सिंह कोई ऐसा काम नहीं कर सकते जो जांच को प्रभावित करे।
Share This:

Leave a Response

%d bloggers like this: