Trending Nowशहर एवं राज्य

Raipur News :जो भाजपा बीफ निर्यातक कंपनियों के चंदा से झंडा, बैनर खरीदकर चुनाव लड़ेगी उससे गौ माता की सेवा की उम्मीद करना बेमानी – कांग्रेस

Raipur News : प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम (State Congress President Mohan Markam)ने कहा कि भाजपा बीफ निर्यातक कंपनियों के चंदा से झण्डा बैनर खरीदकर चुनाव लड़ती है, चुनाव में गौ माता के नाम से वोट मांगती है और सत्ता मिलने के बाद भाजपा के नेता बीफ खाने की सलाह देते हैं। ऐसी भाजपा (BJP)से गौ सेवा की उम्मीद करना बेमानी है। जिन राज्यो में भाजपा की सरकार (States in which BJP government)है वहाँ आज तक पशुधन के लिए कोई योजना नही बनी है। वहाँ गौ वंश पशुधन सड़को में भटक रहे है उनके रहने खाने का कोई प्रबंध नही किया गया, पशुधन के चारागाह जमीन पर भी भाजपा के नेता और उनके समर्थक कब्जा कर लिए है। छत्तीसगढ़ में 15 साल तक भाजपा की सरकार रही है उस दौरान भाजपा और आरएसएस से जुड़े लोग गौ सेवा के नाम से सरकारी अनुदान लेते थे और डकार जाते थे। भाजपा नेता के शगुन गौशाला में हजारों गायों की निर्मम हत्या, भूख, प्यास से हो गई थी। गायों के हाड मांस को बेचने के लिए भाजपा नेता ने गायों को भूखा रखा उन्हें पानी में डुबोया और पैरा भूसी में दबाया था।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह बताएं भाजपा शासित राज्यों मध्यप्रदेश, उत्तर प्रदेश, गुजरात, हरियाणा सहित भाजपा शासित राज्यों में छत्तीसगढ़ की तरह ही कितने गोठानों का निर्माण किया गया है? पशुधन के रहने, खाने का क्या प्रबंध किया गया है? पशुपालकों के लाभ के लिए क्या योजना बनाई गई है?

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार ने 10581 गांवों में गोठान निर्माण की स्वीकृति दी है जिनमे 8119 गोठान निर्मित एवं संचालित है। गौठान समिति और महिला स्व-सहायता समूह के माध्यम से वर्मी कंपोस्ट खाद का निर्माण किया जा रहा है। महिला स्व-सहायता समूह के द्वारा 11 लाख 27 हजार क्विंटल वर्मी कंपोस्ट तथा 4 लाख 60 हजार क्विंटल से अधिक सुपर कंपोस्ट खाद का निर्माण किया गया है। महिला समूह गोबर से खाद के अलावा गो कास्ट दीया, अगरबत्ती, मूर्ति व अन्य सामग्री का निर्माण विक्रय कर रही है। राज्य सरकार ने अब तक 127 करोड़ 79 लाख रुपए का भुगतान किया है। दो लाख से अधिक ग्रामीण पशुपालन किसान इस योजना से लाभान्वित हो रहे हैं।

Advt_07_002_2024
Advt_07_003_2024
Advt_14june24
july_2024_advt0001
Share This: