Trending Nowशहर एवं राज्य

PM MODI IN G20 SUMMIT : बाली की पवित्र धरती पर G20 की अध्यक्षता ग्रहण करना भारत के लिए गर्व की बात ..

PM Modi IN G20 SUMMIT: It is a matter of pride for India to assume the presidency of G20 on the holy land of Bali.

डेस्क। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 17वें जी-20 शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए इंडोनेशिया के बाली में हैं. बुधवार (16 नवंबर) को जी-20 समिट के समापन समारोह को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि वह इंडोनेशिया के राष्ट्रपति जोको विडोडो का अभिनंदन करते हैं और समिट के कुशल नेतृत्व पर बधाई देते हैं. पीएम मोदी ने जी20 समुदाय को बाली डिक्लेरेशन के अनुमोदन के लिए बधाई दी. भारत अपनी जी20 अध्यक्षता के दौरान इंडोनेशिया के सराहनीय कार्य को आगे बढ़ाने की कोशिश करेगा.

भारत के लिए गर्व की बात

पीएम मोदी ने आगे कहा कि यह भारत के लिए गर्व की बात है कि वो जी20 की अध्यक्षता बाली (Bali) की पवित्र धरती पर ग्रहण कर रहा है. भारत और बाली का बहुत प्राचीन रिश्ता है. भारत जी20 की अध्यक्षता की जिम्मेदारी ऐसे समय पर ले रहा है, जब पूरा विश्व आर्थिक चुनौतियों, जियो पॉलिटिक्स संघर्ष और कोरोना जैसी महामारी से जूझ रहा है. ऐसे समय पर विश्व जी20 की ओर आशा की नजर से देखता है. पीएम मोदी ने कहा कि भारत की जी20 अध्यक्षता एक्शन ओरिएंटेड होगी. उन्होंने कहा कि हमारी कोशिश होगी जी20 अगले एक साल में नए विचारों की परिकल्पना के लिए और सामूहिक विचारों को गति देने के लिए एक ग्लोबल प्राइम मूवर की तरह काम करें.

वैश्विक विकास में महिलाओं की भागीदारी जरूरी

पीएम मोदी ने अपने संबोधन के दौरान पर्यावरण पर बढ़ते दबाव पर भी अपनी चिंता जाहिर करते हुए उसके समाधान पर मित्र देशों से मिलकर काम करने की गुजारिश की. पीएम मोदी ने कहा कि विकास के लाभ को सभी लोगों तक पहुंचाना हम सबकी जिम्मेदारी है. पीएम मोदी ने कहा कि वैश्विक विकास महिलाओं की भागीदारी के बिना संभव नहीं है. हमें अपने जी20 एजेंडा में महिलाओं की आवश्यकताओं को लेकर प्राथमिकता बनाए रखनी होगी. बिना शांति और सुरक्षा हमारी आनी वाली पीढ़ी आर्थिक वृद्धि और टेक्नोलॉजी की रिनोवेशन का लाभ नहीं ले पाएगी.

विश्व शांति के लिए मजबूत संदेश देने की आवश्यकता

पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि जी20 को शांति के लिए सदृढ़ संदेश देना होगा. ये सभी प्राथमिकताएं भारत की जी20 अध्यक्षता की थीम वन अर्थ, वन फैमली, वन फ्यूचर में पूर्ण रूप से समाहित है. जी20 की अध्यक्षता ग्रहण करना हर भारतीय के लिए गर्व की बात है. हम अपने राज्यों के शहरों में जी20 की बैठकें आयोजित करेंगे. हमारे जी20 समुदाय को भारत की विविधता, समावेशी संस्कृति का पूरा लाभ मिलेगा. हमारी कामना है कि आप सभी मदर ऑफ डेमोक्रेसी भारत में इस अद्वितीय उत्सव में शामिल हों. साथ मिलकर हम जी20 को वैश्वविक समुदाय का कैटलिस्ट बनाएंगे.

 

 

 

 

 

 

 

R.O. No. 12237/11

dec22_advt2 - Copy
Share This:
%d bloggers like this: