Trending Nowखेल खबर

न्यूजीलैंड के अनुभवी बल्लेबाज रॉस टेलर लेंगे संन्यास, इस सीरीज के बाद कहेंगे क्रिकेट को अलविदा

न्यूजीलैंड के अनुभवी बल्लेबाज रॉस टेलर ने इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास का ऐलान कर दिया. उन्होंन अपने आधिकारिक ट्विटर पर एक पोस्ट के जरिए इस बात की जानकारी दी है. टेलर ने बताया है कि वह अपने घर में बांग्लादेश के खिलाफ होने वाली दो मैचों की टेस्ट सीरीज, और फिर ऑस्ट्रेलिया, नेदरलैंड्स के साथ होने वाले छह वनडे मैचों के बाद खेल को अलविदा कह देंगे. टेलर ने अपने देश के लिए कुल 110 टेस्ट मैच खेले हैं और 12750 रन बनाए हैं. वहीं अपने देश के लिए खेले 233 वनडे मैचों में उन्होंने 10,288 रन बनाए हैं. टेस्ट में उन्होंने 10 शतक और 35 अर्धशतक बनाए हैं जबकि वनडे में उन्होंने 21 शतक और 51 अर्धशतक जमाए हैं.

न्यूजीलैंड अपने घर में बांग्लादेश के खिलाफ दो मैचों की सीरीज खेलेगी जिसकी शुरुआत एक जनवरी से हो रही है. दूसरा टेस्ट मैच नौ जनवरी से शुरू होगा. यह टेलर का आखिरी टेस्ट होगा. जनवरी के आखिर में वह तीन वनडे मैचों की सीरीज के लिए ऑस्ट्रेलिया का दौरा करेगी और फिर घर में नेदरलैंड्स के खिलाफ खेलेगी. टेलर ने ट्वीट करते हुए लिखा, “मैं आज ऐलान करता हूं कि घर में बांग्लादेश के खिलाफ होने वाले दो टेस्ट मैच, ऑस्ट्रेलिया, नेदरलैंड्स के खिलाफ होने वाले छह वनडे मैचों के बाद मैं अपने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लूंगा. 17 साल के शानदार क्रिकेट के लिए शुक्रिया. अपने देश का प्रतिनिधित्व करना सम्मान की बात रही.”

वेस्टइंडीज के खिलाफ किया डेब्यू
टेलर अपने देश के लिए टेस्ट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं. उनसे पीछे हैं मौजूदा कप्तान केन विलियमसन. टेस्ट के अलावा वह वनडे में भी टीम के लिए सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं. वनडे में उनका सर्वोच्च स्कोर नाबाद 181 है जबकि टेस्ट में उनका उच्च स्कोर 290 है. ये स्कोर उन्होंने पर्थ में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बनाया था. टेस्ट में उनके नाम तीन दोहरे शतक हैं.टेलर ने मार्च 2006 में वेस्टइंडीज के खिलाफ अपना वनडे डेब्यू किया था. इसके एक साल बाद वह साउथ अफ्रीका के खिलाफ अपना पहला टेस्ट मैच खेले थे.

वह न्यूजीलैंड टीम के साथ कई उतार-चढ़ाव भरे लम्हों में रहे. 2015 में जब ऑस्ट्रेलिया ने न्यूजीलैंड को फाइनल में हराया था तब भी वह टीम का हिस्सा थे. इसके बाद 2019 में टीम जब दोबारा विश्व कप फाइनल खेली थी तब भी वह टीम में थे. टेलर के हिस्से हालांकि आईसीसी खिताब आया. न्यूजीलैंड ने भारत को आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में हराया था और टेलर ने इस ट्रॉफी को अपने हाथों में उठाया था.

शानदार रहा सफर
टेलर ने न्यूजीलैंड क्रिकेट द्वारा जारी बयान में कहा, “ये शानदार सफर रहा. मैं जब तक अपने देश का प्रतिनिधित्व कर सका मैं उसके लिए अपने आप को भाग्यशाली मानता हूं. खेल के महान खिलाड़ियों के साथ और खिलाफ खेलना, यादें सहेजना और लंबी दोस्ती बनाना शानदार रहा. लेकिन सभी अच्छी चीजों का अंत होता है और मुझे लगता है कि ये समय सही है. मैं अपने परिवार, दोस्तों और उन सभी लोगों का शुक्रिया अदा करना चाहता हूं जिन्होंने मुझे यहां तक पहुंचने में मदद की.”

उन्होंने कहा, “धन्यवाद देने और कारण बताने के लिए काफी समय है. लेकिन अभी मैं सारा ध्यान इस समर न्यूजीलैंड के लिए अच्छा प्रदर्शन करने और इसकी तैयारी पर लगाना चाहता हूं,”

Share This:

Leave a Response

%d bloggers like this: