Trending Nowशहर एवं राज्य

हरेली के आयोजन के लिए समय पूर्व कर लें सभी तैयारियां : सीइओ

जनपद स्तरीय अधिकारियों की समीक्षा बैठक में जिला सीइओ ने दिए आवश्यक दिशा-निर्देश
बैकुण्ठपुर । आगामी तीन दिवस बाद पारंपरिक त्यौहार हरेली का जिले भर में उल्लासपूर्ण आयोजन किया जाना है। इसके लिए कलेक्टर कोरिया कुलदीप शर्मा के निर्देशानुसार जिला पंचायत सीइओ ने सभी ब्लाक स्तरीय अधिकारियों की एक समीक्षा बैठक लेकर आवश्यक दिषा-निर्देश जारी किए। जिला पंचायत सीइओ ने जनपद के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों की बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि परंपरा के अनुसार विधि विधान से पूजन और अन्य उत्सव आयोजन व्यवस्थित तरीके से कराए जाएं। इसके लिए सभी अधिकारी अपने चयनित आयोजन स्थल का मुआयना करके सभी व्यवस्थाएं सुनिष्चित कर लें। उन्होने कहा कि इस त्योहार के आयोजन के लिए राज्य षासन द्वारा विस्तृत निर्देष जारी किए गए हैं। उनके अनुसार सभी जगहों में पारंपरिक खेल जैसे गेड़ी, फुगड़ी, आदि कराने के लिए मैदान आदि का चयन कर लें। ग्रामीणों की उपस्थिति के लिए ग्राम कोटवार के माध्यम से सभी ग्राम पंचायतों में मुनादी कराएं और ग्रामीण खेलकूद के लिए विकासखण्ड शिक्षा अधिकारियों से समन्वय कर बच्चों को सूचित कर दें। उन्होने कहा कि जिला स्तर का आयोजन मुख्यालय बैकुण्ठपुर के ग्राम पंचायत में किया जाना है इसके लिए जनपद पंचायत सीइओ स्वयं स्थल चयन कर आवश्यक तैयारियां पूर्व से ही कर लें। इस बैठक में जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी, कृषि विभाग, पशु पालन विभाग सहित अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।

जिला पंचायत के मंथन कक्ष में आयोजित समीक्षा बैठक में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी कुणाल दुदावत ने सभी जनपदों में स्वच्छ भारत मिषन के तहत हो रहे सभी कार्यों की ब्लाकवार समीक्षा की। अधिकारियों को निर्देषित करते हुए उन्होने कहा कि छूटे हुए पात्र हितग्राहियों के व्यक्तिगत शौचालय निर्माण कार्य को जल्द से जल्द पूरा करें। इसके साथ ही उनहोने सामुदायिक शौचालयों के निर्माण की प्रगति धीमी होने के कारण मनेन्द्रगढ़ के अनुविभागीय अधिकारी ग्रामीण यांत्रिकी सेवा को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। उन्होने सामुदायिक शौचालयों के साथ बनी दुकानों को जल्द से जल्द नीलाम करने व नीलाम हो चुकी दुकानों के नियमित संचालन कराने के निर्देश भी दिए। पर्यटन केंद्रों में बन रहे सामुदायिक शौचालयों के साथ ही अलग अलग ग्राम पंचायतों में स्वीकृत ठोस एवं तरल अपशिष्ट प्रबंधन केंद्र के निर्माण में प्रगति लाने के साथ ही उन्होंने व्यक्तिगत शौचालयों के जिओ टैगिंग कार्य को भी एक सप्ताह में अनिवार्य रूप से पूरा कराने के निर्देश दिए। गोधन न्याय योजना की समीक्षा करते हुए उन्होने सभी गौठानों में नियमित ढंग से गोबर खरीदी कराने के निर्देश दिए। खाली टांको की भराई और वर्मी बन चुके टांकों से छनाई के कार्य को नियमित कराने के निर्देश दिए। दुदावत ने सुपर कंपोस्ट, वर्मी कंपोस्ट आदि के उठाव के संबंध में उप संचालक कृषि को आवश्यक निर्देश देकर एक सप्ताह में यह कार्य पूरा कराने के निर्देश दिए। जिले के दौ गौठानों में गौ मूत्र खरीदी के लिए आवश्यक तैयारी की जानकारी लेते हुए उनहोने इस प्रक्रिया से जुड़े सभी संबंधितों को अच्छी तरह से प्रषिक्षित कराने के निर्देश दिए। गोधन न्याय योजना के प्रभारी अधिकारी को उन्होंने आजीविका संबंधी गतिविधियों की अद्यतन स्थिति प्रस्तुत करने के निर्देश भी दिए। इसके अलावा उन्होने चारागाह की प्रगति व महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के तहत स्वीकृत और प्रगतिरत कार्यों की समीक्षा करते हुए सभी ग्राम पंचायतों में आवश्यकता के अनुसार कार्य कराने के निर्देश दिए। उन्होंने संबंधितों को जनकपुर विकासखण्ड में मनरेगा के तहत सहयोगी संस्थान बीआरएलएफ के प्रस्तावित कार्यों के स्वीकृति हेतु प्रस्ताव प्रस्तुत करने के निर्देश भी दिए।

 

Share This:

Leave a Response

%d bloggers like this: