Trending Nowशहर एवं राज्य

निकाय चुनाव में मोर्चा संभालने असम पहुंचे विकास

डिबरूगढ़ (असम)। पाँच राज्यों में विधानसभा चुनाव के बीच असम में नगरीय निकाय चुनाव भी होने जा रहा है, जहाँ 6 मार्च को मतदान होना है। पार्टी हाईकमान ने पंजाब में चुनाव संपन्न होने के पश्चात्  उपाध्याय को असम में तैनात कर दिया है। असम पहुँचते ही उन्होने डिबरूगढ़ में आज पार्टी नेताओं की बैठक लेकर निकाय चुनाव में रणनीतिक मामलों पर चर्चा की।
गौरतलब है कि राज्य के 80 नगर निकायों में चुनाव हो रहा है और यह पहली बार है जब ईवीएम के जरिए निकाय चुनाव के लिए मतदान किए जाएँगे। जिसकी गणना विधानसभा चुनाव के ठीक पहले 9 मार्च को की जाएगी। असम के 80 नगर निकाय में 977 सीटें हैं जिनके लिए चुनाव प्रचार जोरों पर है। पिछले दिनों असम के मुख्यमंत्री हिमन्ता सरमा ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी के विरूद्ध एक चुनावी सभा में अमानवीय टिप्पणी की थी जिसे लेकर असम में भी जबरदस्त विरोध हो रहा है। इसका निश्चित तौर पर भाजपा को भी राजनीतिक नुकसान हो सकता है। असम के लोगों में इस बात को लेकर भाजपा के अंदर भी जबरदस्त आक्रोश है। उपाध्याय इसी मुद्दे को आम आदमी तक ले जाकर बताना चाहेंगे कि देखें एक मुख्यमंत्री का चेहरा भी ऐसा है।
उपाध्याय डिबरूगढ़ में आज पार्टी पदाधिकारी एवं कार्यकर्ताओं की महत्वपूर्ण बैठक लेकर रणनीति तैयार की है। उन्होंने कहा, नगरीय निकाय चुनाव में कांग्रेस की जीत काफी महत्वपूर्ण होगा जिसके लिए बूथ स्तर पर तैयारी की जरूरत है। उन्होंने बताया कि पूरे प्रदेश में बूथ स्तर पर मतदान शतप्रतिशत कराने कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को जरूरत है कि इन पूरे बूथों में अपनी तैनाती सुनिश्चित करें। साथ ही कांग्रेस कार्यकर्ताओं एवं पदाधिकारियों को इस बात के निर्देश दिए कि वे इस चुनाव में सीधे तौर पर मुख्यमंत्री हिमन्ता सरमा को मुद्दा बनाएँ। जो नेता अपने राजनैतिक फायदे के लिए पिता-पुत्र के संबंध को लेकर सार्वजनिक मंच पर टिप्पणी करता हो असम की जनता को बताया जाना जरूरी है। उन्होंने मुख्यमंत्री के अभी तक के कार्यकाल के दौरान जनविरोधी उन कार्यों को भी जनता के बीच ले जाने की अपील की है जिसके बदौलत असम में भाजपा सरकार में वापसी की है।

Advt_07_002_2024
Advt_07_003_2024
Advt_14june24
july_2024_advt0001
Share This: