Trending Nowशहर एवं राज्य

BREAKING : सीएम के बेटे को ED का समन, 25 नवंबर को होना होगा पेश

BREAKING: ED summons CM’s son, will have to appear on November 25

डेस्क। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत को ईडी ने नया समान जारी किया है। ईडी ने पूछताछ के लिए 25 नवंबर को दिल्ली बुलाया है। इससे पहले ईडी ने वैभव गहलोत से 30 अक्टूबर को दिल्ली में पूछताछ की थी। 16 नवंबर को ईडी ने पूछताछ के लिए बुलाया था। लेकिन गहलोत ने चुनाव के चलते जाने में असमर्थता जताई थी। ईडी ने अब वैभव को 25 नवंबर को पूछताछ के लिए बुलाया है। राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष वैभव गहलोत फॉरेन एक्सचेंज रेगुलेटरी एक्ट (FEMA) के उल्लंघन के मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ED) की जांच का सामना कर रहे हैं। वैभव गहलोत सोमवार सुबह दिल्ली स्थित प्रवर्तन निदेशालय (ED) के दफ्तर में पेश हुई थी। ईडी के अधिकारियों ने उनसे करीब 9 घंटे की पूछताछ की थी। वैभव गहलोत को 16 नवंबर को दोबारा पूछताछ के लिए बुलाया था, लेकिन वह नहीं गए थे।

बीजेपी सांसद किरोड़ी लाल मीणा ने लगाए थे आरोप

भाजपा सांसद किरोड़ी लाल मीणा ने वैभव गहलोत पर होटल फेयरमोंट में मॉरीशस की शैल कंपनी की ओर से करीब 100 करोड़ के निवेश के आरोप लगाए थे। आरोप था कि गहलोत और उनके परिवार के सदस्यों के पैसे को पहले हवाला के जरिए मॉरीशस पहुंचाया गया। मामले में फेमा के उल्लंघन की जांच करने की मांग की गई थी। ईडी ने वैभव और उनके परिवार के सदस्य जिन कंपनियों में डायरेक्टर हैं, उनका पूरा ब्योरा मांगा है। वैभव की कंपनियों और उनके लेनदेन के ब्योरे, ट्राइटन होटल्स एंड रिजॉट्‌र्स कंपनी के साथ लेनदेन का शुरू से लेकर अब तक साल दर साल पूरा ब्योरा मांगा गया है। सनलाइट कार रेंटल कंपनी के लेनदेन और विदेशों से हुए लेनदेन की भी डिटेल मांगी है।

वैभव गहलोत कर चुके हैं इंकार

वैभव गहलोत कह चुके हैं कि- मेरा और मेरे परिवार का फेमा या विदेशी लेनदेन से कोई लेना-देना नहीं है। सीएम अशोक गहलोत ने केंद्र सरकार पर जांच एजेंसियों के दुरुपयोग का आरोप लगाया है। अशोक गहलोत ने संवाददाताओं से कहा था कि इस मामले में कुछ है नहीं, यह 10-12 साल पुराना मामला है। केंद्र सरकार जांच एजेंसियों का दुरुपयोग कर चुकी है। ईडी, सीबीआई औऱ इनकटैक्स केंद्र के इशारे पर काम कर रही है।

 

Share This: