Trending Nowशहर एवं राज्य

URFI JAVED : उर्फी ने कपड़ों को लेकर दी दलील, ‘अलग कपड़े पहनना जुर्म नहीं’, बीजेपी नेत्री ने दर्ज कराई है शिकायत

URFI JAVED: Urfi argued for clothes, ‘wearing different clothes is not a crime’, BJP leader has filed a complaint

उर्फी जावेद इन दिनों फिर से विवादों में हैं. बीजेपी नेता चित्रा वाघ ने उर्फी के कपड़ों के चलते उनके खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई थी. इसके बाद मुंबई पुलिस की तरफ से उर्फी को नोटिस भेजा गया था. साथ ही मुंबई पुलिस कमिश्नर ने जांच के आदेश भी दिए थे. अब उर्फी ने मुंबई पुलिस के सामने जाकर अपनी दलील रखी है.

पुलिस से उर्फी ने कही ये बात –

मुंबई पुलिस के सामने पेश होकर उर्फी ने कहा, ‘मैं एक स्वतंत्र इंसान हूं. मुझे शूट करना और अलग तरह के कपड़े पहनना पसंद है. ये हमारे संविधान में जुर्म नहीं है. जब मैं ऐसे शूट करने के लिए बाहर निकलती हूं तो पैपराजी मुझे स्पॉट करते हैं, मुझे फॉलो करते हैं और मेरी फोटो खींचते हैं और वो तस्वीरें वायरल हो जाती हैं. मैं उन्हें वायरल नहीं करवाती.’

उर्फी पहुंची थीं महिला आयोग –

शुक्रवार को उर्फी जावेद महिला आयोग पहुंची थीं. महाराष्ट्र राज्य महिला आयोग में उर्फी जावेद ने चित्रा वाघ के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी. चित्रा वाघ की बातों से परेशान होकर उर्फी ने महिला आयोग की चेयरपर्सन रूपाली चाकणकर से मुलाकात की थी. उर्फी जावेद का कहना था, उन्हें लेकर की गई चित्रा वाघ की टिप्पणियों से उनकी मॉब लिंचिंग होने का खतरा है.

चित्रा ने की थी पुलिस में शिकायत –

कुछ दिन पहले बीजेपी नेता चित्रा वाघ ने कहा था कि उर्फी जिस तरह के कपड़े पहनकर मुंबई की सड़कों पर घूमती हैं, उससे माहौल खराब हो रहा है. इसके बाद वो उर्फी की शिकायत लेकर महिला आयोग के पास गई थीं. महिला आयोग के कोई कदम ना उठाने के बाद चित्रा अपनी शिकायत लेकर मुंबई पुलिस के पास पहुंची थीं. उन्होंने अंबोली पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज करवाई थी.

इतना ही नहीं, चित्रा वाघ ने महाराष्ट्र राज्य महिला आयोग की कड़ी आलोचना भी की थी. उन्होंने महिला आयोग पर आरोप लगाते हुए कहा था कि वो इस पर राजनीति कर रहे हैं.

उर्फी के वकील ने कहा ये –

दूसरी तरफ चित्रा की बात का जवाब देते हुए उर्फी ने सोशल मीडिया पर कहा था कि वो किसी से नहीं डरती हैं. इंडिया टुडे संग बातचीत में उर्फी जावेद के वकील सातपुते ने कहा था, ‘उर्फी को धमकाने के लिए हमने वाघ के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है. सत्ताधारी पार्टी का कोई सदस्य धमकी दे रहा है. इसका मतलब ये है कि सरकार इसका समर्थन करती है. इस तरह के कमेंट्स उर्फी जावेद को नुकसान पहुंचा सकते हैं. चित्रा वाघ आगे इस तरह की टिप्पणियां ना करें. हम इसे रोकने के लिए मुंबई पुलिस से भी संपर्क करेंगे.’

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Share This:
%d bloggers like this: