Trending Nowशहर एवं राज्य

आरक्षित वन क्षेत्र से अतिक्रमणकारियों को हटाया गया,वन अमले ने केरेगांव परिक्षेत्र में की बेदखली की कार्रवाई, आरोपियों को जेल भेजा गया

धमतरी. जिले के वनमंडल के केरेगांव वनपरिक्षेत्र के अंतर्गत केरेगांव बीट के आरक्षित वनक्षेत्र क्रमांक 125 में कुछ दिन पहले ग्राम ब्राम्हणबाहरा के ग्रामीणों द्वारा हरे भरे पौधों को काट व जलाकर अतिक्रमण किया जा रहा था, जिस पर कार्रवाई करते हुए सभी आरोपियों को आरक्षित वन क्षेत्र से बेदखल कर उन्हें मजिस्ट्रेट के समक्ष प्रस्तुत कर जेल भेजा गया।
इस संबंध में वन विभाग से प्राप्त प्राप्त जानकारी के अनुसार केरेगांव वनपरिक्षेत्र के अंतर्गत केरेगांव बीट के आरक्षित वनक्षेत्र क्रमांक 125 में ग्राम ब्राह्मणबाहरा निवासी आनंदीराम, नरेश कुमार, झंगलू राम, दयाराम, दिनेश, घनश्याम, संतराम, अशोक कुमार, सगराम, सेवकराम, मंगतुला बाई, देवकी बाई, द्रोपती, मालती, प्रमिला, कृपाराम और सरसबाई सभी गोंड जाति के द्वारा हरे-भरे प्राकृतिक फलदार एवं इमारती तथा औषधीय वनस्पति पेड़-पौधों की अवैध कटाई और छोटी झाड़ियों की सफाई, जलाई कर अतिक्रमण के उद्देश्य से झोपड़ी निर्माण किया गया था। इस पर 11 जनवरी को वन अमले द्वारा वनक्षेत्र को अतिक्रमणमुक्त किया गया तथा सभी आरोपियों पर धाराएं भा.व.अ. 1927 की धारा 26 (1) ख, ग,घ, ड़,च,ज और लोक संपत्ति पर हानि निवारण अधिनियम 1984 की धारा 2 एवं 1(1) के तहत कार्रवाई करते हुए न्यायिक मजिस्ट्रेट व्यवहार न्यायाधीश वर्ग-2 नगरी में पेश किया गया, जहां सभी आरोपियों को जेल भेज दिया गया।

Share This:

Leave a Response

%d bloggers like this: