Trending Nowदेश दुनिया

19 नवंबर को लगने जा रहा साल का दूसरा चंद्रग्रहण : ऐसे समझें किस राशि पर कैसा होगा प्रभाव, इष्ट देवी-देवताओं का करें अराधना

नई दिल्ली। ज्योतिषीय astrological गणना की मानें तो चंद्रग्रहण lunar eclipse का बड़ा महत्व है। मान्यताओं के अनुसार ग्रहण को अशुभ माना गया है। इसकी सभी जीव पर बुरा असर पड़ता है। इस दौरान किसी भी तरह के शुभ कार्य नहीं किये जाते हैं। वहीं इसके बुरे प्रभाव से बचने के लिए ईष्ट देवी-देवताओं की अराधना की जाती है। वर्ष 2021 का दूसरा चंद्रग्रहण 19 नवंबर से लगने जा रहा है। आज हम जानेंगे ग्रहण किन-किन राशियों के जातकों पर इसका असर दिखेगा।

भारत समेत यूरोप और एशिया के अधिकांश हिस्सों में आॅस्ट्रेलिया, उत्तर-पश्चिम अफ्रीका, उत्तरी और दक्षिणी अमेरिका, प्रशांत महासागर में दिखाई देगा। चंद्र ग्रहण 19 नवंबर को सुबह 11.34 बजे से शुरु होगा और इसकी समाप्ति शाम 5.33 बजे होगी। यह आंशिक चंद्रग्रहण होगा। इसलिए इसका सूतक काल मान्य नहीं होगा।

हिंदू पंचांग अनुसार ये ग्रहण विक्रम संवत 2078 में कार्तिक माह की पूर्णिमा के दिन वृषभ राशि Taurus और कृत्तिका नक्षत्र Krutika Nakshatra में लगने जा रहा है। इसलिए इस राशि और नक्षत्र में जन्मे लोगों पर इस ग्रहण का सबसे अधिक प्रभाव पड़ेगा। वृषभ राशि के जातकों को बेहद ही सावधान रहना होगा। किसी भी तरह के वाद-विवाद में फंसने से बचना होगा। लड़ाई झगड़ा होने या चोट चपेट लगने के आसार रहेंगे।

Share This:

Leave a Response

%d bloggers like this: