Trending Nowशहर एवं राज्य

RAHUL GANDHI STATMENT : सबसे ज्यादा बेरोजगारी भारत में, संसद से राष्ट्रपति भवन तक कांग्रेस का मार्च, राहुल गांधी ने सरकार को घेरा

Highest unemployment in India, Congress’s march from Parliament to Rashtrapati Bhavan, Rahul Gandhi surrounded the government

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने शुक्रवार को महंगाई और रोजमर्रा के सामानों की बढ़ती कीमतों को लेकर मोदी सरकार पर निशाना साधा. राहुल गांधी ने कहा, आज देश में लोकतंत्र नहीं है. सिर्फ तानाशाही है. हम महंगाई का मुद्दा उठाते हैं. हमें संसद में बोलने नहीं दिया जाता. बाहर प्रदर्शन करने पर गिरफ्तार कर लिया जाता है.

राहुल गांधी ने कांग्रेस दफ्तर में प्रेस कॉन्फ्रेंस संबोधित करते हुए कहा, 70 साल में देश बना, लेकिन बीजेपी ने 8 साल में इसे खत्म कर दिया. चाहें बेरोजगारी, हिंसा और महंगाई का मुद्दा हो, सरकार का सिर्फ यही एजेंडा है, कि इन मुद्दों का न उठाया जाए.

सबसे ज्यादा बेरोजगारी भारत में- राहुल –

राहुल गांधी ने कहा, आज सबसे ज्यादा बेरोजगारी भारत में है. पेट्रोल-डीजल और गैस के दाम बढ़ते जा रहे हैं. लेकिन वित्त मंत्री को दिख नहीं रहा है. किसी भी गांव, शहर में चले जाइए, लोग बता देंगे कि महंगाई है. लेकिन सरकार को नजर नहीं आती.

राहुल ने कहा, सरकार महंगाई, बेरोजगारी से डरती है. ये लोग जनता की ताकत से डरते हैं. क्यों कि ये लोग झूठ बोलते हैं. ये लोग झूठ बोलते हैं कि बेरोजगारी नहीं है, महंगाई नहीं है. चीन आया नहीं है. ये लोग सिर्फ झूठ बोलते हैं.

राहुल गांधी ने कहा, मैं महंगाई पर बोलता हूं. मैं बेरोजगारी पर बोलता हूं. मैं सच बोलता हूं, इसलिए मेरे पीछे एजेंसियां लगा दी गईं. लेकिन मैं सच्चाई बोलने से नहीं डरता. मैं सच बोलता हूं, इसलिए ये लोग मुझपर आक्रमण करते हैं. मैं जितना सच बोलूंगा, उतने आक्रमण ज्यादा होंगे. लेकिन मैं इनसे नहीं डरता. जितना मेरे ऊपर आक्रमण होता है, उतना मैं सीखता हूं. मुझे अच्छा लगता है.

राहुल ने कहा, हिटलर भी चुनाव जीतकर आया था. वह भी चुनाव जीतता था. हिटलर के पास जर्मनी की सभी संस्थाओं का पूरा ढांचा था. मुझे पूरा ढांचा दे दो, फिर मैं बताता हूं.

राहुल गांधी ने कहा, हिंदुस्तान का हर संस्थान आज स्वतंत्र, निष्पक्ष नहीं है. हिंदुस्तान का हर संस्थान आज RSS के नियंत्रण में है. हम सिर्फ एक राजनीतिक पार्टी से नहीं लड़ रहे हैं, हम हिंदुस्तान के पूरे इंफ्रास्ट्रक्चर के खिलाफ लड़ रहे हैं.

कांग्रेस ने ईडी की कार्रवाई का भी उठाया मुद्दा –

कांग्रेस का केंद्र के खिलाफ ये हल्ला बोल ऐसे समय पर हो रहा है, जब प्रवर्तन निदेशालय ने नेशनल हेराल्ड मामले में कार्रवाई तेज की है. राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने नेशनल हेराल्ड मामले में ईडी की कार्रवाई का भी मुद्दा उठाया. उन्होंने कहा, सोनिया गांधी और मल्लिकार्जुन खड़गे से ऐसे वक्त पर पूछताछ हो रही है, जब संसद की कार्रवाई चल रही है.

संसद से राष्ट्रपति भवन तक कांग्रेस का मार्च –

कांग्रेस का ये हल्ला बोल दिल्ली स्थित कांग्रेस मुख्यालय से शुरू होगा. 10 बजे के करीब कांग्रेसी सांसद और वर्किंग कमेटी के सदस्य और दूसरे नेता यहां से मार्च करते हुए निकलेंगे. कांग्रेस के सांसद भी महंगाई के मसले पर 11 बजे संसद भवन से राष्ट्रपति भवन की तरफ मार्च करेंगे. कांग्रेस ने राष्ट्रपति से भी मिलने का वक्त मांगा है, लेकिन अभी तक वक्त नहीं मिला है.

दिल्ली पुलिस ने कहा- सिर्फ जंतर मंतर पर प्रदर्शन की इजाजत –

दिल्ली पुलिस ने कांग्रेस को पत्र लिखकर कहा है कि जंतर मंतर को छोड़कर पूरी नई दिल्ली इलाके में 144 धारा लागू है. ऐसे में प्रोटेस्ट की इजाजत नहीं दी सकती है. अगर धारा 144 का उल्लंघन हुआ, तो कानूनी कार्रवाई की जाएगी. नई दिल्ली इलाके के डीसीपी ने 4 अगस्त और 2 अगस्त को यानी 2 बार कांग्रेस नेता केसी वेणुगोपाल को ये लेटर लिखा है, जानकारी के साथ साथ एक तरह से चेतावनी भी दी गई है.

सूत्रों के मुताबिक, दिल्ली पुलिस को नई दिल्ली इलाके में प्रोटेस्ट को लेकर खुफिया विभाग से कुछ इनपुट्स भी मिले हैं जिसकी वजह से आज सुरक्षा व्यवस्था बेहद कड़ी की गई है. खास तौर से पीएम आवास और सभी वीवीआईपी के घर के आस पास.

खड़गे से पूछताछ पर कांग्रेस ने साधा निशाना –

कांग्रेस ने ईडी द्वारा मल्लिकार्जुन खड़गे से पूछताछ को लेकर केंद्र और ईडी पर निशाना साधा. कांग्रेस सांसद दिग्विजय सिंह ने बताया कि ऐसा इतिहास में कभी नहीं हुआ कि जांच एजेंसी ने संसद के सत्र के दौरान विपक्ष के नेता को समन भेजा गया. दिग्विजय सिंह ने कहा, अगर खड़गे को समन भेजना ही था तो उन्हें 11 बजे से 5 बजे के समय को छोड़कर भी बुलाया जा सकता था. लेकिन नरेंद्र मोदी क्यों डर रहे हैं.

उन्होंने बताया कि कांग्रेस के सभी सांसद महंगाई के मुद्दे पर राष्ट्रपति भवन तक मार्च निकालेंगे. इतना ही देशभर के कांग्रेस के बड़े नेता दिल्ली पहुंच सकते हैं. राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत भी दिल्ली पहुंच रहे हैं. वे संसद से होने वाले मार्च में हिस्सा लेंगे.

Share This:

Leave a Response

%d bloggers like this: