Trending Nowशहर एवं राज्य

कवर्धा मामले पर छत्तीसगढ़ में सियासत गरमाई, कांग्रेस-भाजपा में जुबानी जंग

रायपुर : दो दिनों के कवर्धा दौरे पर गए छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव (TS Singhdeo) ने बुधवार को जन दर्शन कार्यक्रम में लोगों की समस्याएं सुनीं. साथ ही लगातार बढ़ रही महंगाई के विरोध में ग्राम इंदौरी से दशरंपुर गांव तक 8 किलोमीटर की जन जागरण पद यात्रा में शामिल होकर विरोध प्रदर्शन किया. इधर, कवर्धा मामले पर सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि भाजपा कवर्धा मामले को जिंदा रखना चाहती है. वहीं कवर्धा मामले में न्यायिक जांच की मांग को लेकर सीएम हाउस का घेराव करने जा रहे पूर्व सीएम समेत अन्य भाजपाइयों को पुलिस ने रास्ते में ही रोक लिया.

कवर्धा मामले पर राजनीतिक लाभ लेने का प्रयास कर रही भाजपा : सिंहदेव

इस दौरान स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव मीडिया से मुखातिब हुए. उन्होंने रायपुर सीएम हाउस घेराव कर भाजपा के विरोध को दुर्भाग्यपूर्ण बताया. सिंहदेव ने कहा कि बीते दिनों कवर्धा (kawardha Violence) में हुई घटना में धार्मिक और सामाजिक परिस्थिति बनी थी, जिसे लेकर भारती जनता पार्टी राजनीतिक लाभ लेने का भरपूर प्रयास कर रही है. घटना को नियंत्रित करने में थोड़ी परेशानी जरूर हुई, लेकिन इस मामले पर भाजपा दो समाज को आपस में बांटने का काम कर रही है. भाजपा कवर्धा के पूरे मामले पर राजनीति कर रही है, यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है. इस तरह की राजनीति उचित नहीं है.

भूपेश बोले-भाजपाइयों के पास कोई काम नहीं रह गया

इधर, एक दिवसीय प्रवास पर बस्तर पहुंचे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ( Cm Bhupesh Baghel) ने कवर्धा हिंसा में बीजेपी सांसदों और भाजपाइयों के धरना प्रदर्शन को लेकर उन पर निशाना साधा है. सीएम बघेल ने कहा कि भाजपाइयों (BJP) के पास कोई काम नहीं रह गया है. हमने कवर्धा के मामले पर बार-बार प्रदर्शन कर रहे भाजपाइयों से तथ्य मांगा था, लेकिन इनके पास कोई तथ्य नहीं है. मुख्यमंत्री ने कहा कि अब छत्तीसगढ़ में भाजपा के साथ न तो किसान हैं, न ही आदिवासी. इसके अलावा अनुसूचित जनजाति के लोग भी उनके साथ नहीं हैं. महिलाएं और युवा भी इनके साथ नहीं हैं. क्योंकि सबके लिए छत्तीसगढ़ सरकार ( Government of Chhattisgarh) ने योजनाएं बनाई हैं और इसका लाभ छत्तीसगढ़वासियों को मिल रहा है.

सीएम हाउस जा रहे भाजपाइयों को पुलिस ने रोका

वहीं कवर्धा हिंसा मामले में न्यायिक जांच (judicial Investigation) की मांग को लेकर भाजपा के अधिकारी और कार्यकर्ता जिला एकात्म परिसर से सीएम हाउस घेराव करने पैदल निकले. इस दौरान बड़ी संख्या में भाजपा विधायक (BJP MLA) और नेता पदयात्रा में शामिल थे. इसी बीच इन्हें सिविल लाइन थाने में रोक दिया गया. इस प्रदर्शन में पूर्व सीएम डॉ रमन सिंह (Dr. Raman Singh), भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय (Vishnudev Sai), नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक सहित भाजपा के कई बड़े नेता और विधायक मौजूद थे.

पूर्व सीएम ने कहा-हम मामले की न्यायिक जांच की मांग करते हैं

इसके बाद पूर्व सीएम रमन सिंह ने कहा कि हमारी पूरी टीम सीएम हाउस का घेराव करने निकली थी. कवर्धा में एक बहुत बड़ी घटना हुई और यह तुष्टीकरण की राजनीति का प्रताप थी. कबीरधाम में 14 दिन 16 दिन का कर्फ्यू लगे रहने से पूरा कवर्धा क्षेत्र एक तरह से प्रताड़ित हुआ. 70 लोगों को जेल में डाला गया था. इन सब बिंदुओं को लेकर हम चाहते हैं कि जो दोषी हैं, उन पर सख्त कार्रवाई हो और हम कवर्धा की घटना पर न्यायिक जांच की मांग करते हैं.

Share This:

Leave a Response

%d bloggers like this: