Trending Nowक्राइम

बदमाशों ने BJP के पूर्व पदाधिकारी को गोलियां से भूना, घेरकर किया हमला, मौत

भरतपुर : राजस्थान के भरतपुर शहर में बेखौफ बदमाशों ने रविवार देर रात सरेराह बीजेपी के पूर्व पदाधिकारी कृपाल सिंह जघीना को गोलियों से भूनकर मार डाला. वारदात के बाद पुलिस महकमे समेत शहरभर में हड़कंप मच गया. पुलिस ने बदमाशों की धरपकड़ के लिये नाकाबंदी करवाई लेकिन उनका कोई सुराग नहीं लग पाया है. वारदात की सूचना पर सांसद रंजीता कोली और बीजेपी जिलाध्यक्ष डॉ. शैलेश सिंह मौके पर पहुंचे. हत्या का कारण कोई पुरानी रंजिश बताई जा रही है लेकिन फिलहाल उसका खुलासा नहीं हो पाया है. कृपाल सिंह का शव आरबीएम अस्पताल की मोर्चरी में रखा हुआ है. वहां आज उसका पोस्टमार्टम करवाया जायेगा.

पुलिस के अनुसार हत्या के शिकार हुये कृपाल सिंह जघीना पूर्व में बीजेपी किसान मोर्चा के जिला प्रवक्ता रहे थे. वर्तमान में वे रेलवे सलाहकार समिति के सदस्य थे. कृपाल सिंह देर रात अपनी कार से घर जा रहे थे. करीब 10.45 बजे जघीना गेट के पास उनकी कार को बाइक और गाड़ी में सवार होकर आए 1 दर्जन से अधिक बदमाशों ने चारों तरफ से घेर लिया. उसके बाद हमलावरों ने कृपाल सिंह पर ताबड़तोड़ फायरिंग करनी शुरू कर दी. हमलावरों ने करीब एक दर्जन से ज्यादा गोलियां चलाई. उसमें से 6-7 गोलियां कृपाल सिंह को लगी. इससे कृपाल सिंह ने मौके पर ही दम तोड़ दिया.

अस्पताल में चिकित्सकों ने कृपाल सिंह को मृत घोषित किया

वारदात की सूचना मिलते ही कृपाल सिंह के साथी मौके पर पहुंचे और उनको लेकर आरबीएम अस्पताल गये. वहां चिकित्सकों ने कृपाल सिंह को मृत घोषित कर दिया. उसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची. वहीं सांसद रंजीता कोली और बीजेपी जिलाध्यक्ष डॉ. शैलेश सिंह भी मौके पर पहुंच गये. उन्होंने परिजनों को ढांढस बंधाया. इसके साथ ही कानून व्यवस्था को लेकर सवाल उठाए. इस दौरान अस्पताल में भारी भीड़ एकत्र हो गई.

बीजेपी जिलाध्यक्ष बोले भरतपुर बना बदमाशों का अड्डा

बीजेपी जिलाध्यक्ष ने कहा कि भरतपुर अब बदमाशों का अड्डा बन गया है. यहां आए दिन हत्या और लूटपाट जैसी घटनाएं आम बात हो गई है. उन्होंने कहा कि पपला जैसे मोस्ट वांटेड के साथी का भरतपुर में मूवमेंट देखा गया था. उसकी पुलिस ने तलाश की थी लेकिन उसके हाथ कुछ नहीं लगा. पूरे मामले में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अनिल कुमार मीणा का कहना है कि अलग-अलग पहलुओं से जांच की जा रही है. आरोपियों की तलाश की जा रही है. इसमें मुखबिरों का भी सहयोग लिया जा रहा है.

Share This:

Leave a Response

%d bloggers like this: