Trending Nowदेश दुनिया

आज ढह जायेंगे कई घर और होटल, 131 परिवार हुए शिफ्ट, कल विरोध के चलते टल गई थी कार्रवाई…

जोशीमठ : भू-धंसाव की चपेट में आए जोशीमठ में ध्वस्तीकरण की कार्रवाई आज शुरू होगी। शासन के आदेश के बावजूद मंगलवार को भवनों के ध्वस्तीकरण की कार्रवाई शुरू नहीं हो पाई थी। जिला प्रशासन की टीम लाव-लश्कर के साथ भवन तोड़ने पहुंची तो प्रभावित लोग विरोध में उतर आए। ऐसे में ध्वस्तीकरण की कार्रवाई बुधवार तक के लिए टाल दी गई। इसे लेकर दिनभर अफरातफरी का माहौल रहा।बता दे कि अब तक 131 परिवारों को विस्थापित किया गया है. इसी बीच, कल रात्रि को जब डीएम, एडीएम और एसडीएम सहित आला अधिकारियों के गाड़ियों का काफिला आपदा पीड़ितों के शिविरों में निरीक्षण करने के लिए जोशीमठ के मेन मार्केट से गुजर रहा था, इसी दौरान अधिकारियों की गाड़ियों के काफिले को आपदा पीड़िता गीता प्रमार ने एक दम से रोक दिया।

केंद्रीय एजेंसियों ने जमाया डेरा-

मंगलवार को गृह मंत्रालय की टीम सचिव सीमा प्रबंधन की अध्यक्षता में जोशीमठ पहुंंची और स्थिति का आकलन किया। इसके अलावा केंद्रीय एजेंसियां एनजीआरआई, एनआईएच, सीबीआरआई, एनआईडीएम की टीम पहले से ही जोशीमठ में डेरा जमाए हुए हैं। सचिव आपदा प्रबंधन डॉ.रंजीत सिन्हा ने बताया कि आईआईटी रुड़की की टीम को भी मौके पर भेजा रहा है।

आपदा अधिनियम के तहत जान-माल की सुरक्षा को देखते हुए होटलों को तत्काल ध्वस्त करने का निर्णय लिया गया है। यदि ऐसा नहीं किया जाता तो आसपास के आवासीय भवनों और हाईवे को क्षति पहुंच सकती है। साथ ही बिजली और पेयजल की लाइनों को भी नुकसान पहुंच सकता है। – 

Share This: