Trending Nowक्राइम

कर्ज के रुपए मांगे तो ठेकेदार की ले ली जान, आरोपी ने 12 लाख रुपए लिए थे कर्ज, सभी आरोपी सलाखों के पीछे

धमतरी: जिले में 2 दिन पहले मिली ठेकेदार की लाश मामले में बड़ा खुलासा हुआ है। सोनामगर के शांता गुफा के पहाड़ियों में ग्राम मोदे निवासी ज्योति प्रकाश (35) की लाश मिली थी। उसके चेहरे को बुरी तरह से कुचला गया था। लाश मिलने के बाद से ही पुलिस इस केस में हत्या वाले एंगल से ही जांच कर रही थी। बताया गया कि ठेकेदार एक युवक से अपने रुपए वापस मांग रहा था। इसी बात से आरोपी नाराज हो गया और उसने 3 लोगों को दूसरे जिले से बुलाया। इसके बाद चारों ने मिलकर ठेकेदार की क्रिकेट बैट से पीट-पीटकर हत्या कर दी।

पुलिस इस केस में जांच कर ही रही थी। मामला सिहावा थाना क्षेत्र का है। ज्योति प्रकाश ग्राम पंचायतों में ठेकेदार किया करता था। ऐसे में पुलिस ने रुपए के लेन-देन में ही उसकी हत्या की आशंका जताई थी। इस बीच पता चला कि ज्योति प्रकाश ने कुछ समय पहले ग्राम सिरसीदा निवासी लोकेश कुमार सोनडरे(29) को रुपए दिए थे। लेकिन लोकश उसे रुपए वापस नहीं कर रहा था। ये पता चलने के बाद पुलिस ने लोकेश को हिरासत में लिया और उससे कड़ाई से पूछताछ की। पूछताछ में ही उसने अपना जूर्म कबूल कर लिया था।

आरोपी लोकेश ने बताया कि मैंने ज्योति प्रकाश से 12 लाख रुपए कर्ज लिए थे। वही पैसे वो बार-बार मुझसे मांग रहा था। मगर पैसे नहीं होने के कारण नहीं लौटा पाया। इसके बावजूद वो मुझ पर दबाव बना रहा था। इसी बात से मैं तंग आ गया था। फिर उसकी हत्या करने का प्लान बनाया और मुंगेली से नाबालिग, दीप कुमार पाटले, अमर सिंह जांगड़े को पैसे देकर हत्या करने के लिए बुलाया था।

आरोपी ने बताया कि तीनों को बुलाने के बाद हम सभी 1 सितंबर की रात को ज्योति प्रकाश के घर गए थे। वहां से हम उसे किसी बहाने से सोनामगर के शांता गुफा के पहाड़ियों में ले गए। वहां हमने क्रिकेट बैट से पीट-पीटकर ज्योति प्रकाश की हत्या कर दी। हत्या के बाद लाश को वहीं छोड़कर भाग निकले थे। पुलिस ने लोकेश की निशानदेही पर नाबालिग, दीप कुमार पाटले, अमर सिंह जांगड़े को भी गिरफ्तार किया है। रविवार को पूरे मामले का खुलासा हुआ है।

Share This:

Leave a Response

%d bloggers like this: