Trending Nowशहर एवं राज्य

विधायक विकास उपाध्याय द्वारा आयोजित काँवड़ यात्रा में पहली बार 10 हजार से भी ज्यादा भक्तगण सम्मिलित होंगे

 

विधायक विकास उपाध्याय द्वारा आयोजित काँवड़ यात्रा में पहली बार 10 हजार से भी ज्यादा भक्तगण सम्मिलित होंगे

विकास उपाध्याय ने कहा, यह काँवड़ यात्रा‘‘शिवो भूत्वा शिवम् जयेत्’’ को चरितार्थ करती है

रायपुर (छत्तीसगढ़)। पश्चिम विधायक विकास उपाध्याय कल 05 अगस्त को अपने विधानसभा क्षेत्र गुढ़ियारी से विशाल एवं भव्य काँवड़ यात्रा निकालने जा रहे हैं। जिसमें विशेष रूप से मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सम्मिलित होंगे। विकास उपाध्याय ने कहा, कोरोना काल के चलते विगत् दो वर्षों से हजारों भक्तगण काँवड़ यात्रा में सम्मिलित होने से वंचित थे, इसलिए इस बार इस यात्रा को लेकर विशेष इंतजाम किए गए हैं, जिसमें 10 हजार से भी ज्यादा भक्तगण सम्मिलित होंगे। उन्होंने कहा कि काँवड़ यात्रा का हिन्दू धर्म में विशेष महत्व है, क्योंकि इसे शिव भक्ति का प्रतीक माना जाता है और ठीक इसके अनुरूप भक्तगणों में उत्साह देखी जा रही है।

विकास उपाध्याय विधायक बनने के पश्चात् पश्चिम विधानसभा से काँवड़ यात्रा की शुरूआत की थी, तब हजारों की संख्या में लोग इस यात्रा में सम्मिलित होकर पूरे क्षेत्र को शिवभक्ति में लीन कर दिया था। इसके पश्चात् दो वर्षों तक कोरोना काल के चलते यह यात्रा स्थगित रही। जिसकी शुरूआत इस वर्ष फिर से एक बार भव्य रूप में करने विधायक विकास उपाध्याय खुद इसकी तैयारी को लेकर मोर्चा संभाले हुए हैं। कल 05 अगस्त को इसकी शुरूआत गुढ़ियारी स्थित मारूति मंगलम भवन से सुबह 9ः00 बजे पूरे विधि-विधान के साथ आरंभ होगी, जो गुढ़ियारी पहाड़ी चौंक, शुक्रवारी बाजार, कलिंग नगर, सीएसईबी ग्राउंड होते हुए कर्मा चौंक, रामनगर, तेलघानी नाका ब्रिज, अग्रसेन चौंक, आमापारा, लाखेनगर चौंक होते हुए महादेव घाट पहुँचेगी। इस कार्यक्रम में विशेष रूप से प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सम्मिलित होंगे। इस आयोजन को लेकर विशेष इंतजाम किये गए हैं।

विधायक विकास उपाध्याय द्वारा आयोजित काँवड़ यात्रा को भव्य बनाने सप्ताह भर पूर्व से ही प्रचार-प्रसार कर क्षेत्र के लोगों को अधिक से अधिक संख्या में सम्मिलित होने की अपील की जा रही है। काँवड़ यात्रा में सम्मिलित होने वाले भक्तजनों में महिला एवं पुरूषों को यात्रा के अनुरूप पोषाक धारण करने की सलाह दी जा रही है। काँवड़ यात्रा में सम्मिलित होने वाले पुरूष वर्ग के भक्तगण टी-शर्ट एवं शॉर्ट्स जैसी भगवा रंग की पोषाक में नजर आएंगे तो महिला वर्ग भगवा रंग की साड़ी में। इसके साथ ही जगह-जगह यात्रा में सम्मिलित भक्तगणों के लिए पानी, मिठाई, फल, चाय जैसी व्यवस्था का इंतजाम किया गया है। काँवड़ यात्रा में काँवड़ का विशेष महत्व होता है जो बाँस से बना होता है, जिसके विपरित छोर पर दो घड़े बंधे होते हैं, इन घड़ों में मान्यता अनुसार गंगाजल भरा होता है जो पैदल चलकर इस यात्रा की शुरूआत करते हैं। कई भक्त तो नंगे पाँव से ही इस यात्रा में सम्मिलित होते हैं, जिसके उदाहरण कल देखने को मिलेंगे।

विधायक विकास उपाध्याय ने इस आयोजन को लेकर कहा कि हिन्दू धर्म में सावन के महिने में भगवान शिव की पूजा-अर्चना काँवड़ियों द्वारा शिवलिंग के जलाभिषेक का विशेष महत्व माना गया है। उन्होंने कहा, ऐसी मान्यता है कि भगवान शिव को केवल एक लोटा जल चढ़ाकर आसानी से प्रसन्न किया जा सकता है। परन्तु पश्चिम विधानसभा की जनता भगवान शिव को पूरी तरह से जलाभिषेक कर हमेशा के लिए प्रसन्न करने की कोशिश कर रही है ताकि उन्हें कभी क्राधित होने का मौका न मिले और उनका आशीर्वाद पूरे क्षेत्र को मिलता रहे। इसलिए कि यह काँवड़ यात्रा पूरे क्षेत्र के लिए समता और भाईचारे की यात्रा भी है जो सिर्फ सावन के महिने में ही सफल हो सकता है, इसलिए कि यह माह जप, तप और व्रत का महिना है। उन्होंने लोगों से अपील की है कि वे अधिक से अधिक संख्या में इस पवित्र काँवड़ यात्रा में सम्मिलित होकर भगवान शिव के प्रति और हिन्दू धर्म के प्रति अपनी आस्था व्यक्त करें।

 

Share This:

Leave a Response

%d bloggers like this: