Trending Nowशहर एवं राज्य

शहरी गौठान में अधिक मात्रा में पड़े गोबर से वर्मी खाद तैयार नहीं किए जाने पर कलेक्टर ने जताई नाराजगी

नगर पंचायत नगरी के विभिन्न वार्डों का कलेक्टर ने अलसुबह किया सघन निरीक्षण
धमतरी। कलेक्टर श्री पी.एस.एल्मा ने दूरस्थ नगर पंचायत नगरी में शासन की विभिन्न योजनाओं और विकास कार्यों के समुचित क्रियान्वयन से अवगत होने आज अलसुबह छह बजे से वार्ड क्रमांक एक से 15 वार्डों का सघन निरीक्षण एवं भ्रमण किया तथा इन वार्डों में व्याप्त समस्याओं का निराकरण करने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया। उन्होंने आज नगर पंचायत क्षेत्र के गौठान में गोबर की पर्याप्त उपलब्धता के बावजूद समुचित ढंग से वर्मी खाद उत्पादित नहीं किए जाने पर नाराजगी जताई और इसमें तेजी लाने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने स्थानीय नागरिकों से चर्चा कर उनकी मांगें व समस्याएं सुनीं तथा निराकरण के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया। इस दौरान सिहावा विधायक एवं मध्यक्षेत्र विकास प्राधिकरण की उपाध्यक्ष डॉ. लक्ष्मी ध्रुव भी मौजूद रहीं।
कलेक्टर ने वार्डों के निरीक्षण के दौरान वर्षा ऋतु के मद्देनजर सभी आवश्यक तैयारियां करते हुए पानी टंकियों की साफ-सफाई कराकर उनमें ब्लीचिंग पावडर व क्लोरीन की टैबलेट से पानी को शुद्ध करने के निर्देश कलेक्टर ने दिए। नगरवासियों को शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने वॉटर एटीएम प्रारम्भ कराने व पानी टैंकर की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए नगर पंचायत के सहायक अभियंता को निर्देशित किया। वार्ड क्रमांक-01 में नवनिर्मित मुक्तिधाम में बोरखनन का कार्य कराने, जर्जर स्कूल भवन को ढहाकर नवीन भवन तैयार करने के लिए निर्देश दिए। इसके अलावा वार्ड-04 में गांधीसागर तालाब का गंदे पानी की आवक को बंद करने, वार्ड-09 के अमतिया तालाब की नाली से मलिन जल को बाधित कर रोकने एवं गुढिय़ारी तालाब की सफाई कराने, अधूरे गौरवपथ निर्माण को जल्द पूर्ण करने, गैंदसिंह वार्ड में पानी का निकासी मार्ग खोलने, तहसील चौक पर एलईडी लाइट लगवाने, वार्ड-15 में महानदी पर पुल बनाकर गिट्टी सड़क को पक्का मार्ग में तब्दील करने के निर्देश कलेक्टर ने दिए। साथ ही गीला एवं सूखा कचरा का समुचित निबटान, निकासी नालों की नियमित साफ-सफाई के लिए उन्होंने निर्देश दिए। कलेक्टर ने नगर पंचायत में आय के स्रोतों में विस्तार करते हुए राजस्व वसूली के लिए भी निर्देशित करते हुए सभी प्रकार की टैक्स वसूली हेतु वार्ड पार्षदों का सहयोग लेते हुए समेकित कर, सम्पत्ति कर, जल कर, मल कर, दुकानों से नियमित किराया वसूलने, नए अतिक्रमण के विरूद्ध सख्ती से कार्रवाई करने के लिए निर्देशित किया। साथ ही आंगनबाड़ी, स्कूल सहित सभी सार्वजनिक स्थलों की सफाई करने, शौचालयों की मरम्मत करने के अलावा बिजली, स्वच्छ पेयजल, साफ-सफाई, विभिन्न पेंशन योजनाओं के तहत मिलने वाली राशि का समय पर उपलब्ध कराने, सभी पात्र नगरवासियों का राशन कार्ड एवं श्रम कार्ड बनवाने, पुराने कुंओं का जीर्णोद्धार करने, निर्माणाधीन दुकानों का व्यवस्थापन करने के लिए भी कलेक्टर ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए।
कलेक्टर ने निरीक्षण के दौरान छिपली बांधा का गहरीकरण एवं सौंदर्यीकरण करने के लिए भी अनुविभागीय अधिकारी राजस्व को निर्देशित किया। साथ ही मोदे खार में पुलिया निर्माण और तुमबाहरा वार्ड में लोगों के द्वारा शहरी क्षेत्र से पृथक होने व ग्राम पंचायत भैंसामुड़ा में शामिल होने और मोबाइल नेटवर्क की समस्या दूर करने टॉवर की स्थापना करने की मांग पर इसका प्रस्ताव तैयार कर शासन को भेजने की बात कही। इसके अलावा नगर पंचायत नगरी क्षेत्र में सफाई व्यवस्था को दुरूस्त करने के लिए सफाई कर्मचारियों द्वारा की गई सफाई की सतत् मॉनिटरिंग करने हेतु 10 सफाई कर्मचारी देने कलेक्टर द्वारा निर्देशित किया गया। स्वच्छता को सुचारू बनाने तीन टिप्पर एवं एक जेसीबी की भी मांग करते हुए शासन को प्रस्ताव भेजने के लिए कलेक्टर ने नगर पंचायत के अभियंता को निर्देशित किया। कलेक्टर ने इसके अतिरिक्त आबादी एवं शहरी वन अधिकार मान्यता पत्र के प्रकरण तैयार करने, वार्ड में निर्मित कमार भवन का उपयोग सुनिश्चित करने के लिए भी निर्देश दिए। इस अवसर पर नगर पंचायत नगरी की अध्यक्ष श्रीमती आराधना शुक्ला, उपाध्यक्ष अजय नाहटा, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व श्री चंद्रकांत कौशित के अलावा पार्षदगण एवं नगर पंचायत के अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।

Share This:

Leave a Response

%d bloggers like this: