Trending Nowशहर एवं राज्य

महंगाई भत्ता व सातवें वेतनमान को लेकर छत्तीसगढ़ कर्मचारियों का विरोध, मशाल रैली निकालकर शासन के खिलाफ अपना विरोध दर्ज कराया

सूरजपुर। जिले में पिछले 5 दिनों से 34 प्रतिशत महंगाई भत्ता व सातवें वेतनमान के अनुरूप गृह भाड़ा भत्ता देने की मांग को लेकर धरने पर बैठे शासकीय कर्मचारियों ने मशाल रैली निकालकर शासन के खिलाफ अपना विरोध दर्ज कराया. दरअसल पूरे छत्तीसगढ़ में महंगाई व गृह भाड़ा भत्ता की मांग को लेकर कर्मचारी हड़ताल पर है. जिसके कारण सभी कार्यालयों के कामकाज पूरे तरीके से ठप पड़े हुए. जिसका सीधा असर अब अपना काम कराने कार्यालय आये आम लोगों पर पढ़ रहा है.

कर्मचारियों के इस अनिश्चितकालीन हड़ताल के कारण लोगों के काम नहीं हो पा रहे हैं और दूरदराज से आए लोगों को खाली हाथ ही घर वापस लौटना पड़ रहा है,,,, वहीं दिन-ब-दिन कर्मचारी अपने विरोध का दर्ज कर रहने का तरीका भी बदल रहे हैं. गुरुवार को सैकड़ों की संख्या में कर्मचारियों ने पैदल मार्च करते हुए नगर में मशाल रैली निकालकर नारेबाजी की.

वहीं न्यायलीन कर्मचारी व शिक्षकों के हड़ताल में सम्मिलित होने से जहां एक ओर बच्चों की पढ़ाई बाधित हो रही है वहीं इंसाफ की उमीद लेकर न्यायालय पहुंचे लोगों को भी बैरंग ही वापस लौटना पड़ रहा है. मीडिया से चर्चा करते हुए हड़ताली कर्मचारियों ने बताया कि हमारे द्वारा सरकार से अपील की गई है. अगर सरकार हमारी मांगों पर अगर जल्द निर्णय नहीं लेती है तो हड़ताल आगे भी जारी रहेगा. बरहाल अब यह देखने वाली बात होगी कि सरकार और कर्मचारियों के आपस की लड़ाई में आम जनता को और कितना परेशान होना पड़ेगा।

Share This: