Trending Nowशहर एवं राज्य

BREAKING : कांग्रेस पार्टी का सदस्य बनने के लिए सभी तरह का नशा वर्जित, खादी की अनिवार्यता

BREAKING: To become a member of the Congress party, all kinds of drugs are prohibited, Khadi is mandatory

रायपुर. कांग्रेस पार्टी का सदस्य बनने के लिए शराब पीना वर्जित था. ऐसी बातें आ रही थीं कि कांग्रेस इसे हटा सकती है. हालांकि कांग्रेस ने यह स्पष्ट किया है कि कांग्रेस पार्टी के सदस्य के लिए शराब ही नहीं, बल्कि सभी तरह का नशा वर्जित होगा. इसी तरह खादी की अनिवार्यता बनी रहेगी. संविधान संशोधन समिति के सदस्य और राज्यसभा सांसद रणदीप सिंह सूरजेवाला ने कहा कि जब तक कांग्रेस है, तब तक खादी रहेगी. हालांकि एक व्यक्ति एक पद और एक परिवार एक टिकट के प्रस्ताव को संविधान में शामिल करने से उन्होंने इंकार किया है. सूरजेवाला के मुताबिक दोनों ही विषय कांग्रेस के पालिसी से संबंधित हैं. इसे अमल में लाया जा रहा है. उदयपुर नव संकल्प शिविर में पारित प्रस्तावों का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि किसी परिवार का दूसरा सदस्य यदि पांच साल से पार्टी के कार्यक्रम और गतिविधियों में सक्रिय है, उसे वह एक परिवार एक टिकट के दायरे में नहीं माना जाएगा. सूरजेवाला ने बताया कि पार्टी के 85वें महाधिवेशन में छोटे-बड़े मिलाकर 85 संशोधन प्रस्तावित हैं.

सीडब्ल्यूसी में दोगुने सदस्य –

कांग्रेस वर्किंग कमेटी में अब दोगुने सदस्य होंगे. पहले 23 सदस्य होते थे. इनमें 12 चुने जाते थे और 11 का मनोनयन होता था. अब 45 सदस्य होंगे. इनमें 18 चुने जाएंगे. 17 का मनोनयन होगा. इसके अलावा पार्टी अध्यक्ष, पूर्व अध्यक्ष, प्रधानमंत्री, पूर्व प्रधानमंत्री, लोकसभा व राज्यसभा के नेता स्थाई सदस्य होंगे. सीडब्ल्यूसी के आधे पद दलित, आदिवासी, अन्य पिछड़ा वर्ग और अल्पसंख्यक के लिए आरक्षित होंगे. वहीं जो 50 प्रतिशत पद हैं, उसमें से महिलाओं व 50 साल से कम उम्र के सदस्यों के लिए आरक्षित होगा.

पूरे देश में एक तरह का ढांचा –

सूरजेवाला ने बताया कि अब पूरे देश में कांग्रेस संगठन में एक तरह का ढांचा होगा. फिलहाल अलग-अलग प्रांतों में अलग-अलग व्यवस्थाएं कर ली जाती हैं. इसे देखते हुए यह बदलाव किया गया है. इसके मुताबिक अब बूथ कमेटी सबसे निचली ईकाई होगी. इसके बाद पंचायत कांग्रेस कमेटी, जनपद या मंडल कांग्रेस कमेटी, ब्लॉक कांग्रेस कमेटी, जिला कांग्रेस कमेटी और प्रदेश कांग्रेस कमेटी होगी. कांग्रेस की सदस्यता फीस बढ़ाने का निर्णय लिया गया है. अब तक 5 रुपए सदस्यता शुल्क था, जिसे 10 रुपए किया जाएगा.

एक अन्य महत्वपूर्ण संशोधन प्रस्ताव में पार्टी के हर फॉर्म में पिता के साथ-साथ माता और पत्नी का भी उल्लेख किया जाएगा. साथ ही, फॉर्म में पुरुष व महिला के साथ-साथ थर्ड जेंडर का भी उल्लेख होगा.

Share This: