Trending Nowशहर एवं राज्य

बालाघाट मुठभेड़ में मारी गई दोनो महिला नक्सलियों की शिनाख्त छग के सुकमा निवासी के रूप में हुई

जगदलपुर। बालाघाट मुठभेड़ में मारी गई 28 लाख की ईनामी दो महिला नक्सलियों की शिनाख्त छत्तीसगढ़ के बस्तर संभाग के सुकमा जिले के जगरगुंडा की रहने वाली मृत महिला नक्सली सुनीता उर्फ सोमड़ी मंडावी एवं सुकमा जिले के चिंतलनार इलाके की रहने वाली मृत महिला नक्सली सरिता उर्फ बिज्जे के रूप में हुई है। दोनो ईनामी महिला नक्सली मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र के बॉर्डर इलाके में सक्रिय थीं। इन दोनों महिला नक्सलियों पर छत्तीसगढ़ सरकार की तरफ से 5 लाख, महाराष्ट्र सरकार ने 6 और मध्यप्रदेश सरकार ने 3 लाख रुपए का इनाम घोषित किया था। दोनों नक्सली एरिया कमेटी मेंबर के रूप में सक्रिय थी। दोनों 14-14 लाख रुपए की हार्डकोर इनामी नक्सली थी।
इनमें से एक मृत महिला नक्सली का नाम सुनीता उर्फ सोमड़ी मंडावी है। जो सुकमा जिले के जगरगुंडा की रहने वाली थी। सुनीता सिर्फ छत्तीसगढ़ में ही 5 से ज्यादा बड़ी वारदातों में शामिल थी। बताया जा रहा है कि कई साल पहले ये नक्सलियों के दल में शामिल हुई थी। वर्तमान में यह एरिया कमांडर के रूप में सक्रिय थी। दूसरी मृत महिला नक्सली का नाम सरिता उर्फ बिज्जे है।
बिज्जे भी सुकमा जिले के चिंतलनार इलाके की रहने वाली थी। सुनीता और बिज्जे ने लगभग एक ही समय में नक्सल संगठन में शामिल हुई थी। दोनों नक्सली हार्डकोर नक्सली कमांडर हिड़मा के क्षेत्र की ही रहने वाली थी। सरिता को भी बड़े नक्सल लीडर्स ने बालाघाट एरिया में नक्सल संगठन को मजबूती देने के लिए भेजा था। सरिता छत्तीसगढ़ में सिर्फ 2 बड़ी वारदातों में ही शामिल रही है।

Share This: