Trending Nowदेश दुनिया

गणेश विसर्जन पर 16 की मौत, UP में 4 भाई-बहन समेत 9 तो हरियाणा में 7 डूबे

  • वहीं पानी की तेज धार में बहने वाले लोगों को भी अलग अलग स्थानों से निकालकर अस्पताल में भर्ती कराया गया
  • घटनाओं की जानकारी मिलने पर हरियाणा के CM मनोहर लाल ने शोक प्रकट किया

हरियाणा/उत्तर प्रदेश: गणेश विसर्जन के दिन कल शुक्रवार को कई जगह हादसे हो गए. हरियाणा और उत्तर प्रदेश में विसर्जन के दौरान डूबने से कम से कम 16 लोगों की मौत हो गई. हरियाणा के महेंद्रगढ़, सोनीपत और रेवाड़ी में गणेश विसर्जन को गए सात युवकों की डूबने से मौत हो गई. वहीं, यूपी में अलग-अलग जगहों पर 9 लोगों की मौत हुई.महेंद्र गढ़ में घटनाक्रम के दौरान नौ लोगों के पानी की तेज धार में बह जाने की भी सूचना है. सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची SDRF की टीमों ने मृतकों के शव को पानी से निकालकर अस्पताल पहुंचाया है. वहीं पानी की तेज धार में बहने वाले लोगों को भी अलग अलग स्थानों से निकालकर अस्पताल में भर्ती कराया गया है. यह घटना शुक्रवार शाम की है. इन घटनाओं की जानकारी मिलने पर हरियाणा के CM मनोहर लाल ने शोक प्रकट किया है.

गणेश चतुर्थी से शुरू गणेश उत्सव के तहत हरियाणा के लगभग सभी जिलों में अलग स्थानों पर गणेश प्रतिमाओं की स्थापना हुई थी. कुछ प्रतिमाओं का तो तीन दिन बाद ही विसर्जन कर दिया गया, वहीं बाकी प्रतिमाओं को अनंत चर्तुदशी के अवसर पर शुक्रवार को विसर्जन किया गया. इसके लिए गणपति बप्पा के भक्त गाजे बाजे के साथ उन्हें लेकर विभिन्न घाटों पर पहुंचे थे. इसी क्रम में महेंद्र गढ़ कैनाल में शुक्रवार को करीब पांच दर्जन से अधिक प्रतिमाओं का विसर्जन किया गया. इन्हीं में से एक प्रतिमा का विसर्जन करते समय चार युवक कैनाल के गहरे पानी में चले गए और डूबने लगे.

बचाव कार्य में देरी से गई जान
मौके पर मौजूद लोगों ने उन्हें बचाने का खूब प्रयास किया, लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी. उन्हें तत्काल अस्पताल पहुंचाया गया, लेकिन डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया. महेंद्र गढ़ के सिविल सर्जन अशोक कुमार ने बताया कि सभी को मृत अवस्था में अस्पताल लाया गया था. यहां एक अन्य प्रतिमा के विसर्जन के दौरान भी हादसा हो गया. प्रतिमा लेकर पानी में उतरे नौ युवक अचानक से गहरे और तेज धार वाले पानी की चपेट में आ गए. इससे वह पानी की धार के साथ ही बहने लगे. गनीमत रही कि SDRF की टीम ने उन्हें थोड़ी दूर आगे जाकर सकुशल पानी से निकाल लिया. हालांकि उस समय तक उनके फेफड़ों में काफी पानी भर गया था. इसलिए सभी को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

सोनीपत में भी दो की मौत
सोनीपत में भी गणेश विसर्जन के दौरान दो युवकों की डूबने से मौत हो गई. यह दोनों युवक भी गणेश प्रतिमा लेकर विसर्जित करने के लिए यमुना नदी में गए थे. बताया जा रहा है कि दोनों युवकों को तैरने नहीं आता था. इसलिए इन्हें साथियों ने पानी में उतरने से रोका भी, लेकिन ये नहीं माने. अचानक से नदी के अंदर ये गहरे पानी में चले गए और जब तक इनके बचाव का प्रयास किया जाता, इनकी डूबने से मौत हो गई.

CM ने जताया शोक
हरियाणा के CM मनोहर लाल ने इन दोनों घटनाओं पर गहरा शोक प्रकट किया है. उन्होंने ट्विटर पर लिखा है कि इन दोनों घटनाओं में युवाओं की असामयिक मौत की घटना दिल दहलाने वाली है. इस मुश्किल समय में वह उनके परिवार के साथ खड़े हैं. उन्होंने लिखा है कि राज्य में और भी घटनाएं हुई है. हालांकि NDRF की टीमों ने इनमें सभी को बचा लिया है.

यूपी में सात की हुई मौत
उधर, यूपी के संतकबीर नगर में हुई घटना में चार बच्चों की डूबने से मौत हो गई है. खलीलाबाद थाना क्षेत्र के मोहम्मदपुर कथार गांव की इस घटना के शिकार सभी बच्चों की उम्र छह से 11 साल के बीच थी. पुलिस ने मछुआरों की मदद से सभी बच्चों का शव बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. एसपी संत कबीरनगर सोनम कुमार ने बताया कि चारो बच्चों की पहचान पौफिया(6), अजीत(60, रुबी(8) और दिपाली (11) के रूप में हुई है. यह सभी बच्चे गणेश प्रतिमा विसर्जन देखने के लिए नदी में घुसे थे और गहरे पानी में चले जाने की वजह से इनकी मौत हो गई. जबकि, झांसी की बेतवा नदी में और उन्नाव में गणेश विसर्जन के दौरान नोट घाट पुल पर बड़ा हादसा हो गया. इसमें दो लोगों की मौत हो गई. एक व्यक्ति इन लोगों को बचाने की पूरी कोशिश की,लेकिन वह खुद डूबने लगा तो छोड़ दिया. बता दें कि इस हादसे में कई लोग डूबने लगे थे. हालांकि बाकी सभी लोगों को मौके पर मौजूद गोताखोरों ने बचा लिया था.

Share This:

Leave a Response

%d bloggers like this: