Trending Nowशहर एवं राज्य

नवीन तहसील के लिए ग्रामीणों ने मुख्यमंत्री का आभार माना

राजस्व मामलों के निराकरण के लिए नहीं जाना होगा दूर

कोरिया। मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल के नेतृत्व में प्रशासनिक विकेंद्रीकरण से प्रदेश में जनसुविधाओं की लोगों तक पहुंच आसान हो रही है। इसी कड़ी में आज नवीन तहसील पोंड़ी (बचरा) का शुभारंभ  हुआ। जनता की बहुप्रतीक्षित मांग पर नवीन तहसील के शुरू होने से इस क्षेत्र के अंतर्गत 33 ग्राम पंचायतों के लोगों को राजस्व मामलों के निराकरण में सहूलियत मिलेगी।

कार्यक्रम में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग  से वर्चुअल रूप से जुड़े गृह, लोकनिर्माण एवं जिले के प्रभारी मंत्री ताम्रध्वज साहू ने क्षेत्र की जनता को नवीन तहसील के शुभारंभ पर शुभकामनाएं प्रेषित की। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री की मंशानुरूप आज नवीन तहसील निर्माण से लोगों को समय पर राजस्व सुविधाएं सुनिश्चित की जा सकेंगी। प्रशासनिक कामकाज में कसावट आएगी।

तहसील कार्यालय का औपचारिक शुभारंभ संसदीय सचिव एवं बैकुंठपुर विधायक अम्बिका सिंहदेव के द्वारा तहसील कार्यालय में फीता काटकर किया गया। इसके बाद उन्होंने तहसील कार्यालय का मुआयना कर सभी लोगों को शुभकामनाएं दी। इस अवसर पर संसदीय सचिव ने जनता को संबोधित करते हुए कहा कि शासन की मंशा आम जनता के सर्वांगीण विकास और सुविधाओं का विस्तार सुनिश्चित करना है। नवीन तहसील कार्यालय शुरू होने से लोगों के समय, श्रम और धन की बचत होगी। जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती रेणुका सिंह एवं उपाध्यक्ष  वेदांती तिवारी ने भी जनता को नवीन तहसील कार्यालय शुरू होने की शुभकामनाएं प्रेषित की।

कलेक्टर ने शुभारंभ कार्यक्रम में क्षेत्रवासियों को नवीन तहसील की जानकारी दी। तहसील पोड़ी (बचरा) बनने से 33 ग्राम पंचायतों के लोगों को राजस्व मामलों के निराकरण की सुविधा मिलेगी, नवीन तहसील में एक राजस्व निरीक्षक मण्डल तथा 15 पटवारी हल्का होंगे। इस अवसर पर उन्होंने पंचायतों में विशेष शिविर आयोजित कर राजस्व मामलों के निराकरण के लिए तहसीलदार को निर्देशित किया। इस मौके पर एसपी  त्रिलोक बंसल भी मौजूद रहे।ग्राम बैमा के विजय कुमार जायसवाल ने नवीन तहसील के शुभारंभ पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को धन्यवाद दिया। ग्रामीण दिलभरन ने बताया कि जिन राजस्व कार्यों के लिए पहले दूर जाना पड़ता था, वे अब यहीं हो जाएंगे। इसके लिए पूरे क्षेत्रवासियों की ओर से शासन तथा प्रशासन को धन्यवाद देता हूं। शुभारंभ कार्यक्रम में स्थानीय जनप्रतिनिधि, प्रशासनिक अधिकारी-कर्मचारी एवं बड़ी संख्या में ग्रामीणजन उपस्थित रहे।

Share This: