Trending Nowदेश दुनिया

हृदय रोग से ग्रसित शिक्षा मंत्री की सेहत पर अपडेट, एमजीएम हॉस्पिटल में किया गया रेफर

झारखंड। शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो  की तबीयत बिगड़ गई है. सोमवार की शाम महतो को एयर एंबुलेंस से चेन्नई भेजा गया. महतो विधानसभा में सत्र में हिस्सा ले रहे थे, तभी उनकी तबीयत बिगड़ गई थी, जिसके बाद उन्हें आनन-फानन में रांची के पारस हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था. बाद में डॉक्टर्स की सलाह पर रात करीब 9 बजे चेन्नई से एयर एंबुलेंस रांची पहुंची और उन्हें एयरलिफ्ट करके भेजा गया. मंत्री महतो के साथ डॉक्टर्स की टीम और उनका बेटा और भतीजा भी साथ में चेन्नई गए हैं. इससे पहले राज्य के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने पारस हॉस्पिटल जाकर मंत्री जगरनाथ महतो हाल-चाल जाना. सीएम के अलावा मंत्री मिथलेश ठाकुर, हफिजुल हसन, विधायक-सांसद, रांची एसपी, डीसी सहित कई आला अधिकारी अस्पताल पहुंचे थे. सीएम हेमंत सोरेन खुद महतो के स्वास्थ्य की मॉनिटरिंग कर रहे हैं. गौरतलब है कि कोविड-19 की पहली लहर के दौरान जगरनाथ महतो लंबे समय तक बीमार थे, जिसके बाद उनका चेन्नई के एमजीएम अस्पताल में करीब 8 महीने तक इलाज चला था. वहीं, कोविड की पहली लहर में उनके फेफड़े में संक्रमण फैल गया था. हॉस्पिटल इमरजेंसी वार्ड के डॉक्टर राजीव रंजन सिंह ने कहा कि शिक्षा मंत्री जगन्नाथ महतो के साथ में थोड़ी सी प्रॉब्लम हो गई थी और लंग्स में संक्रमण को लेकर यहां भर्ती कराया गया. बाद में बेहतर इलाज के लिए एमजीएम हॉस्पिटल चेन्नई भेजा गया है. 55 साल के जगरनाथ महतो हृदय रोग से भी ग्रसित हैं. अक्टूबर 2018 में उन्हें दिल का दौरा पड़ा था, उसके बाद उन्हें रांची के मेडिका अस्पताल में भर्ती कराया गया था. उनकी एक बार एनजीओप्लास्टी भी हो चुकी है.

Share This:

Leave a Response

%d bloggers like this: