Trending Nowशहर एवं राज्य

कार्यालय पुलिस अधीक्षक राजनांदगांव में ऑपरेशन ‘‘निजात’’ के तहत् नार्कोटिक्स/ड्रग्स के विरूद्ध अभियान में मेडिकल स्टोर्स मालिकों की भूमिका के संबंध में ली गई मीटिंग होल में…

राजनांदगांव पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह के निर्देशन पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजनांदगांव संजय महादेवा द्वारा नशा मुक्ति जैसे नारकोटिक्स, ड्रग्स आदि से आम जनता को सुरक्षित रखने हेतु राजनांदगांव पुलिस द्वारा प्रारंभ किए गए ‘‘निजात अभियान’’ में मेडिकल स्टोर संचालकों की भूमिका सुनिश्चित करने हेतु बैठक आयोजित किया गया था जिसमें अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक डोंगरगढ़ श्री जयप्रकाश बधाई थाना प्रभारी कोतवाली निरीक्षक एलेग्जेंडर किरो, ड्रग इंस्पेक्टर एवं शहर के मेडिकल स्टोर संचालक व उनके प्रतिनिधिगण उपस्थित थे।वर्तमान परिप्रेक्ष्य दवा के नाम पर नशीली दवाईयों की खरीद फरोक्त में अंकुश लगाने के साथ साथ लोगों में नशे के विरूद्ध जन जागरूकता में सहयोग प्रदान कर निजात अभियान में बेहतर परिणाम देखने का आवहान किया गया। इसी परीप्रेक्ष्य में निम्नांकित बिन्दुओं में चर्चा की गई :- 1- रजिस्टर्ड डॉक्टर की लिखित पर्ची के बिना कोई भी दवाई न दिया जाए। 2- नाईट्रोटेन या अन्य कोई नशे से सम्बंधित दवाई का विक्रय रजिस्टर में विधिवत संधारण किया जाए।

साथ ही सुरक्षा व सावधानी हेतु अपने अपने संस्थानों/दुकानों में सी.सी.टी.व्ही. कैमरा अंदर व बाहर लगवाना सुनिश्चित करें साथ ही पुलिस कन्ट्रोल रूम राजनांदगांव का मोबाईल नम्बर 9479192199, पुलिस के आपात नम्बर 100 एवं 112 के साथ साथ सायबर ठगी का शिकार होने पर 1930 नम्बर का प्रिन्टआउट करवा कर अपने संस्थान पर लगाना सुनिश्चित करें। जिससे लोग आपात स्थिति में पुलिस की सहायता प्राप्त कर सके।

 

Share This: