Trending Nowशहर एवं राज्य

राजनीतिक पार्टियो में मची खलबली…अजीत कुकरेजा ने नहीं लिया नामांकन वापस…कांग्रेस की बढ़ सकती है मुश्किलें

रायपुर। छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान के बाद अब सभी राजनीतिक पार्टियो में खलबली मची हुई है। चुनाव के लिए जहां बीजेपी और कांग्रेस अपने उम्मीदवारों के नाम का ऐलान कर दिया है। तो दूसरी ओर अब नेताओं के बीच बागवत शुरु हो गए है। कांग्रेस ने उत्तर विधानसभा के लिए एक बार फिर वर्तमान विधायक को उत्तर विधानसभा के लिए उम्मीदवार बनाया है। जिसके बाद टिकट नहीं मिलने से नाराज कांग्रेस के बागी नेता अजीत कुकरेजा ने निर्दलीय चुनाव लड़ने का ऐलान किया है। अजीत कुकरेजा ने निर्दलीय चुनाव लड़ने के लिए नामांकन फार्म भर दिया है। जिसके बाद अभी तक उन्होंने अपना नाम वापस नहीं लिया। इससे साफ हो गया कि अब वे उत्तर विधानसभा से निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में चुनावी मैदान में उतर गए है। आपको बता दें कि नामांकन दाखिल करने के बाद अजीत कुकरेजा अब चुनाव प्रचार में जुट गए है।

बता दें कि रायपुर उत्तर से कांग्रेस के बागी नेता अजीत कुकरेजा ने पार्टी से दावेदारी ठोकी थी। लेकिन पार्टी ने उसकी जगह वर्तमान विधायक को एक बार फिर टिकट दिया है। जिससे अजीत कुकरेजा काफी नाराज चल रहे हैं।

साल 2018 में भी की थी टिकट की मांग

गौरतलब है कि कांग्रेस के बागी नेता अजीत कुकरेजा ने उत्तर विधानसभा से साल 2018 में भी टिकट की मांग की थी। लेकिन उस वक्त भी उनको कांग्रेस ने टिकट नहीं दिया था। लेकिन इस साल उन्होंने टिकट के लिए पूरी ताकत झोक दी थी। इस बार ​भी पार्टी ने उन्हें टिकट नहीं दिया। जिसके बाद उन्होंने निर्दलीय चुनाव लड़ने का फैसला लिया।

Share This: