Trending Nowदेश दुनिया

इन राज्यों में कल भी जारी रहेगा ‘लू’ का कहर, जानें कहां होगी बारिश

देश में भीषण गर्मी (Heatwave in India) से लोगों का जीना मुहाल हो गया है. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली और यूपी समेत देश के कई राज्यों में आसमान से ‘आग’ बरस रही है. लोग मानसून आने का इंतजार कर रहे हैं, जिससे झमाझम बारिश हो और लोगों को इस तपती गर्मी से राहत मिले मगर फिलहाल ऐसी कोई संभावना नहीं है. मौसम विभाग (IMD) के मुताबिक, 15 जून से पहले गर्मी से राहत नहीं मिलने वाली है. इसके बाद बारिश की संभावना है. आईएमडी के मुताबिक, मध्य भारत और देश के उत्तरी मैदानी इलाकों को बारिश की संभावना है. आईएमडी के महानिदेशक मृत्युंजय महापात्र ने कहा, ‘हमारे विस्तारित रेंज पूर्वानुमान के मुताबिक, 15 जून तक मानसून की वजह से बारिश की संभावना है.

उन्होंने कहा, ‘यह बारिश चावल, मक्का, कपास, सोयाबीन, गन्ना और मूंगफली जैसी महत्वपूर्ण फसलों की बुवाई में मदद करेगी.’ बता दें कि केरल में मानसून समय से पहले दस्तक दे दी थी. केरल में 29 मई को ही मानसून पहुंच गया था, जबकि पहुंचने का अनुमान एक जून था. मगर बारिश औसत से 42 फीसदी कम हुई. आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, असम, दक्षिणी पश्चिम बंगाल, मेघालय, सिक्किम और कर्नाटक के कुछ हिस्सों में अधिक बारिश हुई है.

दिल्ली समेत इ राज्यों में कल भी जारी रहेगा ‘लू’ का कहर

आईएमडी ने कहा कि उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, झारखंड, तेलंगाना और मध्य प्रदेश में गुरुवार को भी लू का सामना करना पड़ेगा जबकि ओडिशा में शुक्रवार तक लू का प्रकोप जारी रहने की संभावना है. आईएमडी ने कहा कि गुजरात और महाराष्ट्र में अगले पांच दिन के दौरान अधिकतम तापमान में दो से तीन डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट आ सकती है. इसने कहा कि अरब सागर से आने वाली पश्चिमी हवाओं के कारण अगले पांच दिन के दौरान कर्नाटक, केरल और लक्षद्वीप में भारी बारिश की संभावना है. मौसम विभाग ने बुधवार को दक्षिणी कर्नाटक जबकि तटीय कर्नाटक और केरल में शनिवार तक अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश की संभावना जताई है. IMD ने कहा कि अगले दो-तीन दिनों तक पश्चिमोत्तर एवं मध्य भारत में अधिकतम तामपान में किसी बड़े बदलाव की कोई गुजाइंश नहीं है तथा उसके बाद पारा दो से तीन डिग्री तक लुढक सकता है.

कर्नाटक और केरल में बारिश की संभावना

मौसम विभाग ने बताया है कि कर्नाटक के विभिन्न हिस्सों और केरल में शनिवार तक अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश की संभावना जताई है. वहीं, इस बीच दक्षिण पश्चिम मानसून तमिलनाडु, पुडुचेरी और कराईकाल एवं बंगाल की खाड़ी के दक्षिण पश्चिम एवं पश्चिम मध्य हिस्सों में आगे बढ़ा. मानसून के कम से कम अगले एक सप्ताह में कमजोर रहने के आसार हैं और 15 जून के बाद उसके रफ्तार पकड़ने के बाद अच्छी बारिश की संभावना है.

दिल्ली में कल येलो अलर्ट

दिल्ली के कई हिस्सों में बुधवार को लगातार छठे दिन भी भीषण लू का प्रकोप दर्ज किया गया, हालांकि आईएमडी ने कहा है कि दो दिनों में कुछ राहत मिलने की उम्मीद है. नजफगढ़, मुंगेशपुर, पीतमपुरा और रिज स्टेशन में अधिकतम तापमान क्रमश: 46.3 डिग्री सेल्सियस, 46.2 डिग्री सेल्सियस, 45.7 डिग्री सेल्सियस और 45.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. IMD ने गुरुवार को दिल्ली में अलग-अलग स्थानों पर लू की स्थिति की चेतावनी देते हुए येलो अलर्ट जारी किया है. राजधानी में शनिवार तक अधिकतम तापमान 41 डिग्री सेल्सियस तक गिर सकता है. मॉनसून के 15 जून तक पूर्वी भारत पहुंचने की उम्मीद के साथ, पूर्वी हवाएं नमी लाएंगी और उत्तर-पश्चिम भारत में मानसून पूर्व गतिविधि को तेज करेंगी.

Share This:

Leave a Response

%d bloggers like this: