Trending Nowक्राइमशहर एवं राज्य

SUICIDE IN RAIPUR : रायपुर आत्महत्या मामले में मृतक के सुसाइड नोट से बड़ा खुलासा

SUICIDE IN RAIPUR: Big revelation from the suicide note of the deceased in Raipur suicide case.

रायपुर। राजधानी रायपुर के टिकरापारा थाना क्षेत्र के मठपुरैना स्थित बीएसयूपी कालोनी में लखन सेन, उसकी पत्नी रानू सेन और बेटी पायल सेन के फांसी लगाकर खुदकुशी करने के मामले में पुलिस को सुसाइ नोट मिला है। मृतक लखन की जेब से बरामद सुसाइड नोट में बैंक के कर्ज, बीमारी और जमीन विवाद से परेशान होकर खुदकुशी करने का उल्लेख है। उसने दो बेटियों से माफी भी मांगी है। पुलिस राइटिंग एक्सपर्ट से सुसाइड नोट की जांच करवाएगी। पुलिस ने शव का पीएम करवा कर स्वजन को सौंप दिया। मृतक मूलत: भाटापारा का रहने वाला था। अब पीएम रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है।

उल्लेखनीय है कि गुरुवार की रात को लगभग 10 बजे टिकरापारा थाना पुलिस को एक ही परिवार के तीन लोगों द्वारा खुदकुशी करने की जानकारी मिली। लखन और उसके परिवार ने शव मिलने से तीन दिन पूर्व ही फांसी लगा ली थी। बदबू आने पर लोगों की सूचना पर पहुंची पुलिस टीम ने रात में घटना स्थल को सील कर दिया था। शुक्रवार को सुबह फोरेंसिक एक्सपर्ट की टीम ने घटना स्थल पहुंचकर जांच की। फोरेंसिक टीम को आसपास खून की कुछ बूंदें मिलीं। वहां की कई वस्तुएं टीम ने अपने पास रखी है, जिसकी जांच की जा रही है।

कर्ज चुकाने के लिए आते थे फोन –

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार लखन ने सुसाइड नोट में उल्लेख किया है कि उसने जिन लोगों से लोन लिया था, वे अपने पैसों की मांग करते हुए लगातार फोन कर रहे थे। लखन ने दीपावली में 40 हजार रुपये की बीसी उठाया था। हालांकि यह स्पष्ट नहीं हो सका है कि उस पर कितने रुपये का कर्ज था।

बीमारी से परेशान –

सुसाइड नोट में बीमारी से परेशान होने का उल्लेख किया है। लखन पेट दर्द से परेशान रहता था। इसके अलावा उसके पैर में एक घाव हो गया था, जो लंबे अरसे बाद भी नहीं भरा। उसने किसी डाक्टर के पास जख्म दिखाया, तो डाक्टर ने कैंसर होने का अंदेशा जताया था।

संपत्ति बंटवारे से था नाखुश –

जानकारी के अनुसार लखन के चार भाई और तीन बहन हैं। लखन पिछले आठ-दस वर्षों से रायपुर में ड्राइवरी कर रहा था। संपत्ति बंटवारे से लखन नाखुश था। लखन को लगता था कि उसे पारिवारिक जायदाद में से जितनी जमीन मिलनी चाहिए थी, वह नहीं मिली। सुसाइड नोट में जमीन विवाद की बात का भी उल्लेख किया है।

आत्महत्या मामले की जांच करेगी कांग्रेस –

राजधानी रायपुर के मठपुरैना इलाके के बीएसयूपी कालोनी में एक ही परिवार के तीन लोगों के फांसी लगाकर आत्महत्या मामले में कांग्रेस ने छह सदस्यीय समिति गठित की है। कांग्रेस प्रदेशा अध्यक्ष दीपक बैज ने मामले की गंभीरता को देखते हुए पूर्व विधायक विकास उपाध्याय के नेतृत्व में टीम गठित हुई है।

उपाध्याय को टीम का संयोजक बनाया गया है। इसके अलावा समिति में गिरीश दुबे, प्रमोद दुबे, पार्वती साहू, डा. करूणा कुर्रे और नंदकुमार सेन सदस्य बनाए गए है। दीपक बैज ने समिति को जल्द से जल्द पीड़ित परिवार के स्वजन और पड़ोसियों से मुलाकात करके रिपोर्ट तैयार करने को कहा है।

 

Share This: