Trending Nowशहर एवं राज्य

12 जातियों को अनुसूचित जाति की अनुसूची में शामिल करने पीएम को भाजपा के वरिष्ठ नेता ननकीराम कंवर ने लिखा पत्र

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता पूर्व मंत्री ननकीराम कंवर ने बताया कि मात्रात्मक त्रुटि के कारण जिन 12 अनुसूचित जातियों को अनुसूची से वंचित कर दिया गया है, उन्हें अनुसूचित जाति की अनुसूची में शामिल करने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा है। यह पत्र 8 अप्रैल 2022 को लिखा था जिस पर निर्णय अपेक्षित है।

एकात्म परिसर में मीडिया से चर्चा करते हुए पूर्व मंत्री ननकीराम कंवर ने कहा कि अधिकार वंचित आदिवासी संघर्ष समिति की उपसमिति के सदस्यों ने उनके समक्ष उपस्थित होकर 12 अनुसूचित जातियों को संविधान के अनुच्छेद 342 के अंतर्गत शामिल करने का एक निवेदन पेश किया था क्योंकि उन जातियों को मात्रात्मक त्रुटि के कारण अनुसूची में शामिल नहीं किया जा रहा था। उन्होंने कहा कि 8 अप्रैल 2022 को पीएम मोदी के नाम पत्र लिखा है और यह अपील की है कि जातियों को संविधान के अनुच्छेद 342 के अंतर्गत अनुसूची में शामिल करें।

कंवर ने बताया कि अनुसूचित जाति सौरा को सांवरा भूमिया को भुइया लिखा गया है इसलिए ये जातियां शामिल नहीं हो सकी थीं। भारत सरकार के कैबिनेट बैठक में 13 फरवरी 2019 को इन जातियों को अनुसूची में शामिल करने का प्रस्ताव पास हो चुका है और प्रस्ताव जनजाति कार्य मंत्रालय भारत सरकार नई दिल्ली में लंबित है। पीएम मोदी को लिखे पत्र में श्री कंवर ने छत्तीसगढ़ राज्य की अनुसूचित जाति की सूची में उक्त समुदाय को मात्रात्मक त्रुटि को सुधार करते हुए संशोधन कर शामिल करने तथा संसद सत्र में प्रस्तुत करने की अपील की है।

कांग्रेस सरकार भ्रष्ट तंत्र को संरक्षण दे रही है- केदार गुप्ता

इधर आज मीडिया कर्मियों से चर्चा में भाजपा के वरिष्ठ नेता केदार गुप्ता ने बताया कि कांग्रेसनीत राज्य सरकार के तमाम विभागों में चल रहे भ्रष्टाचार उजागर हो रहे हैं इसीलिए भाजपा नेताओं, कार्यकर्ताओं को झूठे प्रकरण में फंसाया जा रहा है। पिछले दिनों भाजपा नेता और आरटीआई कार्यकर्ता जयराम दुबे को साजिश कर फंसाने की कोशिश की गई, वे एक निजी कार्यक्रम में नागपुर गए हुए थे वहां से वापसी के दौरान चिचोला बॉर्डर पर उनकी गाड़ी में पुलिस ने धमकाकर शराब की बोतलें रख दीं और बॉर्डर के बाद जब्ती की कार्रवाई कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

गुप्ता ने बताया कि यह सरकार लोकसेवा और विकास के मूल तत्व को पूरा करने की जगह भ्रष्ट तंत्र को संरक्षण दे रही है। उसके खिलाफ आवाज उठाने वालों पर कार्रवाई की जा रही है। इस तरह की हरकतें भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ कांग्रेस सरकार कर रही है। गोबर घोटाले से संबंधित आरटीआई प्रस्तुत करने के कारण जयराम दुबे पर हमला तक किया जा चुका है जिसकी शिकायत सरस्वती नगर थाने में की गई लेकिन अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है और उनका बयान तक नहीं लिया गया है।

Share This:

Leave a Response

%d bloggers like this: