Trending Nowशहर एवं राज्य

SAVINGS SCHEMES AND PPF : छोटी निवेश योजनाओं के निवेशकों को जल्द ही खुशखबरी, ब्याज दर में होगी इतनी वृद्धि

Good news to the investors of small investment schemes soon, the interest rate will increase so much

नई दिल्ली। सरकार छोटी निवेश योजनाओं के निवेशकों को जल्द ही खुशखबरी दे सकती है. खबरों के अनुसार, सरकार इन बचत योजनाओं पर दी जाने वाली ब्याज दर में वृद्धि कर सकती है. बता दें कि सरकार हर तिमाही में छोटी बचत योजनाओं की ब्याज दरों की समीक्षा करती है और उसमें स्थिति के अनुरूप संशोधन किया जाता है. इसलिए ऐसा माना जा रहा है कि महंगाई को देखते हुए सरकार सितंबर तिमाही में इन योजनाओं का ब्याज बढ़ा सकती है.

खबरों के अनुसार, सरकार छोटी बचत योजनाओं की ब्याज दर में 0.50 फीसदी से लेकर 0.75 फीसदी तक इजाफा कर सकती है. आपको बता दें कि आरबीआई द्वारा रेपो रेट में वृद्धि के बाद बैंकों ने एफडी की ब्याज दरों में कई बार बढ़ोतरी कर दी है. वहीं, सरकार ने पिछली 2 बार रेपो रेट में वृद्धि के बावजूद ब्याज दर में कोई बदलाव नहीं किया. इसलिए अब तीसरी बार बढ़ी रेपो रेट को देखते हुए सरकार से ब्याज दर में बदलाव की उम्मीद की जा रही है.

किन निवेशकों को होगा लाभ –

अगर छोटी बचत योजनाओं की ब्याज दरों में इजाफा किया जाता है तो पीपीएफ, सुकन्या समृद्धि योजना, एनएससी और किसान विकास पत्र समेत अन्य बचत योजनाओं के निवेशकों को लाभ मिल सकता है. फिलहाल पीपीएफ पर 7.1 फीसदी, सुकन्या समृद्धि योजना पर 7.6 फीसदी, एनएससी पर 6.8 फीसदी और किसान विकास पत्र पर 6.9 फीसदी की दर से वार्षिक ब्याज मिलता है. खबरों के अनुसार, सरकार अगर इन योजनाओं पर ब्याज बढ़ाती है तो उसे जुलाई से लागू माना जाएगा.

क्या हैं ये योजनाएं? –

पब्लिक प्रोविडेंट फंड बच्चों के लिए खोला जा सकता है. इसकी शुरुआत मां-बाप कर सकते हैं और बच्चे की 18 साल की उम्र तक इस फंड की जिम्मेदारी अपने पास रख सकते हैं. उसके बाद बच्चा खुद इस फंड की देखभाल कर सकता है. इसके अलावा लोग इस स्कीम को अपने रिटायरमेंट फंड के तौर पर भी इस्तेमाल करते हैं. दरअसल, ब्याज दर अच्छी होने के कारण इसमें लंबा निवेश बहुत अच्छी रकम जुटाई जा सकती है.

सुकन्या समृद्धि योजना –

यह भी एक छोटी बचत योजना है. यह लंबी अवधि की योजना है और इसमें पैसे जमा कर आप अपनी बेटी की पढ़ाई से लेकर विवाह तक के लिए फंड जुटा सकता है. यह खाता 10 वर्ष से कम की लड़कियों के लिए खोला जा सकता है. इसमें सालाना 250 रुपये से लेकर 1.50 रुपये तक जमा किया जा सकता है.

एनएससी –

राष्ट्रीय बचत पत्र या एनएससी को पोस्ट ऑफिस से खरीदा जा सकता है. इसे भारत सरकार का समर्थन प्राप्त है. इसमें आप 5 साल की अवधि के लिए निवेश कर सकते हैं. इसमें निवेश की न्यूनतम राशि 1,000 रुपये है.

किसान विकास पत्र –

इसे भी डाकघर से खरीदा जा सकता है. यह योजना 124 महीने की अवधि की है. इसमें आपके निवेश को दोगुना किया जाता है. किसान विकास पत्र को 10 साल की उम्र से अधिक का बच्चा या कोई वयस्क खोल सकता है. जॉइंट ए और बी खातों के लिए कम से कम 3 वयस्क होने चाहिए. इसकी शुरुआत 1,000 रुपये के निवेश से की जा सकती है.

Share This: