Trending Nowशहर एवं राज्य

प्रशिक्षण शिविर​​​​ में बोलीं पुरंदेश्वरी- भाजपा नए सिरे से उभरकर आएगी; सोशल मीडिया पर रहेगा फोकस

रायपुर। रायपुर में भारतीय जनता पार्टी का प्रदेश स्तरीय प्रशिक्षण शिविर शुरू हो चुका है। शुक्रवार को इस प्रशिक्षण शिविर के पहले दिन, भाजपा का झंडा फहराकर राष्ट्रीय सह संगठन महामंत्री शिव प्रकाश और भारतीय जनता पार्टी की प्रदेश प्रभारी डी पुरंदेश्वरी ने शुरूआत की। इस प्रशिक्षण शिविर में बतौर विशेष वक्ता शामिल होने अमित मालवीय भी पहुंचे हैं।

भाजपा आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय सोशल मीडिया के इस्तेमाल पर प्रदेश के नेताओं को प्रशिक्षित कर रहे हैं। अमित मालवीय भाजपा नेताओं को बता रहे हैं कि कैसे सोशल मीडिया के इस्तेमाल के जरिए विपक्षी दलों को घेरा जा सकता है और भाजपा के पक्ष में माहौल बनाया जा सकता है। वहीं भाजपा प्रदेश प्रभारी डी. पुरंदेश्वरी ने कहा है कि यह प्रशिक्षण शिविर काफी महत्वपूर्ण है। इस शिविर के बाद भाजपा नए सिरे से छत्तीसगढ़ में उभरकर आएगी।

भारतीय जनता पार्टी का यह प्रशिक्षण शिविर साल 2023 के चुनावों के मद्देनजर बेहद महत्वपूर्ण है। प्रदेश स्तर के इस प्रशिक्षण शिविर में सभी जिलों के जिला अध्यक्ष, पार्टी के प्रदेश संगठन के तमाम पदाधिकारी, सांसद विधायक शामिल हो रहे हैं। बैठक में ऐसे 15 विषय तय किए गए हैं जिनसे छत्तीसगढ़ में भारतीय जनता पार्टी की स्थिति बेहतर हो सके। इनमें आम लोगों से मेलजोल बढ़ाने से लेकर सियासी रूप में कांग्रेस को घेरना, मुद्दों को लोगों के बीच ले जाना जैसी बातें भी शामिल हैं। पार्टी के इतिहास और मूल सिद्धांतों से नए और पुराने पदाधिकारियों को परिचित करवाया जा रहा है।

रायपुर के एयरपोर्ट के ठीक सामने बने जैन समुदाय के जैन मानस भवन में इस प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया गया है। 3 दिनों तक भारतीय जनता पार्टी के तमाम नेता इसी भवन में रहेंगे। 31 जुलाई तक चलने वाले इस प्रशिक्षण शिविर में नेताओं के रहने खाने-पीने योगाभ्यास मनोरंजन का भी बंदोबस्त किया गया है।

छत्तीसगढ़ भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रभारी डी पुरंदेश्वरी ने इस प्रशिक्षण शिविर को सबसे अहम प्रशिक्षण शिविर बताया है। उन्होंने कहा है कि पार्टी की मूल सोच को याद दिलाते हुए इसमें कार्यक्रम तय किए गए हैं, पार्टी के इतिहास और सैद्धांतिक विचारधारा की जानकारी कार्यकर्ताओं को दी जा रही है। इस प्रशिक्षण शिविर के बाद नए सिरे से छत्तीसगढ़ में भाजपा उभरकर आएगी।

प्रशिक्षण शिविर में भारतीय जनता पार्टी के नेताओं के बीच एकता बढ़ाने पर भी जोर दिया जा रहा है । इस बात पर भी फोकस है कि कैसे प्रदेश में कांग्रेस को घेरा जाए। प्रदेश में चलाई जा रही योजनाओं को लेकर भी भाजपा के नेता आपस में रणनीति तय कर रहे हैं, कि कैसे चुनाव के समय भ्रष्टाचार बेरोजगारी, शराबबंदी जैसे मसलों को लेकर लोगों के बीच जाकर चुनावी माहौल तैयार किया जाएगा।

Share This:

Leave a Response

%d bloggers like this: