Trending Nowशहर एवं राज्य

ओम हॉस्पिटल में मिली नवजात को नयी जिंदगी

रायपुर स्थित ओम हॉस्पिटल में मॉ व नवजात को नयी जिंदगी मिली। पूरे केस के बारे में डॉ. कमलेश अग्रवाल डॉयरेक्टर ओम हॉस्पिटल ने बताया कि बच्चे की मॉ गीतांजलि 7 माह की गर्भवती थी तथा कोविड पॉजिटव थी, उसे समय से पूर्व ही प्रसव पीड़ा चालू हो गयी । गीतांजलि में खून की कमी थी, कमेढी गठिया था व बच्चेदानी में पानी की कमी थी । समय पूर्व प्रसव पीड़ा होने के कारण प्रिमेच्योर बच्चे का जन्म डॉ. शारदा परिहार की देखरेख में हुआ जन्म के समय बच्चा मात्र 1 किलो ग्राम का था। बच्चे का इलाज डॉ श्रीकांत सनाठय की देखरेख में ओम हॉस्पिटल की नर्सरी में हुआ अनेक उतार चढ़ाव के बाद बच्चा स्वस्थ है बच्चे का वजन 1.5 किलोग्राम है व डिस्चार्ज होकर अपने घर जा चुका है। ज्ञात रहे ओम मल्टीस्पेशिलीटी हॉस्पिटल में महिला रोग व शिशु रोग के लिये अनुभवी डॉक्टर, सर्वसुविधायुक्त आईसीयू व नर्सरी की सुविधा उपलब्ध है।

Advt_07_002_2024
Advt_07_003_2024
Advt_14june24
july_2024_advt0001
Share This: