Trending Nowशहर एवं राज्य

5 साल पहले एक कॉलेज नहीं था, आज तीन हैं वार्डों में सड़कें-नालियां बनाईं, सबका साथ दिया

Five years ago there was not one college, today there are three, roads and drains were built in the wards, everyone was supported.

रायपुर ग्रामीण को परिवार मानकर सेवा करते आए पंकज शर्मा इसलिए जीत का भरपूर आशीर्वाद

रायपुर। रायपुर ग्रामीण में कांग्रेस प्रत्याशी पंकज शर्मा को जनता से जीत का भरपूर आशीर्वाद मिल रहा है। बुधवार को उनकी जनसंपर्क यात्रा पहले रावांभाठा गई। फिर बीरगांव में विशाल रैली निकाली गई। इसका समापन विशाल जनसभा के रूप में हुआ। यहां पंकज ने लोगों से कहा, 5 साल पहले रायपुर ग्रामीण में एक कॉलेज नहीं था। आज तीन हैं। हमारे युवाओं को उच्च शिक्षा अब घर के बिलकुल नजदीक उपलब्ध है। बच्चों की क्वालिटी एजुकेशन के लिए हमने जगह-जगह आत्मानंद हिंदी-इंग्लिश मीडियम स्कूल खोले। बीरगांव में सड़क बनवाने 17 दिन धरना दिया। 2 दिन जेल में भी काटे। पीछे नहीं हटे। नतीजा, आपकी मांग पूरी हुईं। लोगों को उनकी जमीन पर अधिकार दिलाने का काम भी हमने किया। पट्टा बांटकर हजारों परिवारों को उनकी जमीन पर मालिकाना हक दिलाया। बीरगांव के 40 वार्डों में नाली, बिजली और सड़क की समस्या दूर की। हमारे इलाके में 9 पानी टंकियां बननी थीं। इनमें से 7 बनकर तैयार है। अब वो दिन दूर नहीं जब बीरगांव टैंकर मुक्त होगा। देवपुरी से अमलीडीह और दलदल सिवनी के बीच रोड कनेक्टिविटी भी बेहतर हुई है।

साफी पानी देने ही 146 करोड़ रु. खर्च सड़क-नाली, जिम पर 500 करोड़ पार

पंकज ने बताया, बीते 5 सालों में हर दिन हमने क्षेत्र के लोगों की समस्याओं को दूर करने का काम किया है। बीरगांव और माना के लोगों को साफ पानी देने के लिए ही 146 करोड़ से ज्यादा खर्च किए गए हैं। जबकि सड़क, नाली, जिम, अंडरपास, सामुदायिक व सामाजिक भवनों के लिए 500 करोड़ से ज्यादा खर्च किए गए हैं। आज हजारों बच्चों को गुणवत्तायुक्त शिक्षा मिल रही है। सैकड़ों सामाजिक भवनों में अतिरिक्त कमरों का निर्माण कराया गया है। हमर क्लीनिक के जरिए ग्रामीण इलाकों बेहतर स्वास्थ्य सुविधाओं का विस्तार किया गया है।‌

सिर्फ विकास ही नहीं किया हर सुख-दुख में भी साथ रहे

पंकज शर्मा ने कहा, ऐसा नहीं है कि हमने केवल विकास पर ही काम किया है। मैंने हमेशा आपके हर सुख-दुख में साथ खड़े होने की कोशिश की है। नवरात्रि, गणेश पक्ष, होली-दिवाली हो या भागवत कथा और हवन-पूजन, हर मौके को आपके साथ रहकर बेहतर बनाने की कोशिश की है। साहू समाज के भाइयों ने भवन की मांग की। हमने 45 लाख रुपए स्वीकृत करवा दिए। सिंघानिया चौक में 12 लाख रुपए की लागत से माता कर्मा की मूर्ति स्थापित करवाई। इसी तरह दूसरे समाजों की भी हर बात को गंभीरता से लेते हुए कई काम करवाए हैं।

भाईदूज पर बहनों ने पंकज भैया को जीत की गारंटी का तोहफा दिया

बुधवार को भाईदूज का शुभ दिन भी था। कस्बों-गांवों की यात्रा के दौरान कई बहनें भी आरती की थाल सजाकर पंकज भैया से मिलने आईं। माथे पर रोली और अक्षत का का तिलक लगाकर शुभकामनाएं दीं और अपने भाई को ही जिताकर लाने की बात कही। पंकज ने कहा, मय तुमन ल हमेशा अपन परिवार के सदस्य माने हंव। दीदी-नोनी अउ दाई मन के सम्मान बर हमन पहिली भी काम करे हन अउ आगे भी करत रबो।

Share This: