Trending Nowशहर एवं राज्य

ELECTION COMMISSION NEWS : चुनाव बाद हिंसा क्यों नहीं रोक सके? EC ने आंध्र के DGP और मुख्य सचिव को किया तलब

ELECTION COMMISSION NEWS: Why couldn’t violence be stopped after elections? EC summoned Andhra DGP and Chief Secretary

आंध्र प्रदेश में पिछले सोमवार को हुए लोकसभा चुनाव और विधानसभा चुनाव के दौरान राज्य के कई हिस्सों में हिंसा हुई थी। हिंसा के मद्देनजर चुनाव आयोग ने अब राज्य के कुछ अधिकारियों को तलब किया है। चुनाव आयोग ने आंध्र प्रदेश में चुनाव के बाद हिंसा का संज्ञान लेते हुए घटनाओं को रोकने में प्रशासन की विफलता पर व्यक्तिगत रूप से स्पष्टीकरण देने को कहा है। आंध्र प्रदेश के मुख्य सचिव और पुलिस महानिदेशक (DGP) को तलब किया गया है।

चुनाव आयोग ने राज्य सरकार को आदर्श आचार संहिता के अभी लागू होने की याद दिलाते हुए मुख्य सचिव और पुलिस प्रमुख से यह सुनिश्चित करने को कहा कि ऐसी घटनाएं दोबारा न हों। अधिकारियों ने बताया कि चुनाव आयोग ने बार-बार इस बात पर जोर दिया है कि लोकतंत्र में हिंसा के लिए कोई जगह नहीं है।

राजीव कुमार कर रहे हैं चुनावों की निगरानी

लोकसभा चुनावों की घोषणा के बाद से मुख्य चुनाव आयुक्त राजीव कुमार शांतिपूर्ण और हिंसा मुक्त चुनाव सुनिश्चित करने के लिए व्यक्तिगत रूप से चुनाव क्षेत्र की निगरानी कर रहे हैं। जब आंध्र प्रदेश के शीर्ष अधिकारी चुनाव आयोग मुख्यालय में उपस्थित होंगे, तो उनसे चुनाव के बाद की हिंसा को रोकने में प्रशासन की विफलता के कारणों के बारे में व्यक्तिगत रूप से स्पष्टीकरण देने के लिए कहा  जाएगा।

घटना को रोकने के लिए उठाए कदमों के बारे में पूछा जाएगा 

सूत्रों ने बताया कि उनसे भविष्य में ऐसी किसी भी घटना से बचने के लिए उठाए जाने वाले एहतियाती कदमों के बारे में भी पूछा जाएगा। आंध्र प्रदेश के कुछ हिस्सों में चुनाव के बाद हिंसा की सूचना मिली है, बता दें सोमवार को वहां लोकसभा और विधानसभा चुनाव एक साथ हुए थे। वहीं सत्तारूढ़ वाईएसआर कांग्रेस पार्टी और मुख्य विपक्षी तेलुगू देशम पार्टी (TDP) के नेताओं ने घटनाओं के लिए एक-दूसरे पर आरोप लगाए हैं।

चुनाव में हिंसा की घटनाओं पर गंभीरता

मुख्य चुनाव आयुक्त राजीव कुमार ने आंध्र प्रदेश में मतदान के दिन हिंसा की घटनाओं को काफी गंभीरता से लिया है। वहीं चुनाव आयोग ने राज्य के कई अधिकारियों को तलब किया है और हिंसा को लेकर सभी जानकारी देने के लिए कहा है। ऐसे में पूरी घटना की गहनता से जांच की जाएगी और आगे की कार्रवाई भी होगी।

Share This: